#IndiaFightsCorona कोरोना वायरस

011-23978046 , ncov2019[at]gov[dot]in
MyGov ऐप डाउनलोड करेंऔर कोविड से संबंधित नवीनतम जानकारी पाएं
कोरोना संबंधी राष्ट्रीय हेल्पलाइन नम्बर
1075 स्वास्थ्य मंत्रालय
1098 चाइल्ड हेल्पलाइन
08046110007 मनोवैज्ञानिक सहायता
14567 वरिष्ठ नागरिक
14443 आयुष परामर्श
9013151515 MyGov व्हाट्सएप हेल्पडेस्क
Vaccine Status demo
टीकाकरण की स्थिति शेयर करें और प्रमाणपत्र डाउनलोड करें
एक योद्धा बनो! यदि आपको पूर्ण या आंशिक रूप से टीका लगाया गया है, तो आप अपने टीकाकरण की स्थिति को अपने सामाजिक दायरे में शेयर करें। चलो हमारे मित्रों और अनुयायियों को भारत की COVID-19 के खिलाफ लड़ाई में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करें।
अपने CoWin टीकाकरण प्रमाणपत्र में बताए अनुसार अपना मोबाइल नंबर दर्ज करें
आखिरी अपडेट : 22 Jan 2022, 08:00 IST (GMT+5:30)
कोविड-19 टीकाकरण राज्यवार
टीकाकरण आज
67,49,746 पूर्व दिवस पर वैक्सीन के डोज
1,61,16,60,078 वैक्सीन के कुल डोज
Jan 21, 2022 तक SARS-CoV-2 (कोविड-19)
की जांच की स्थिति
19,60,954Jan 21, 2022 को कुल सैंपल की जांच हुई
71,34,99,892 कुल सैंपल की जांच की गई
देश भर में मामले राज्यवार
21,13,365
94,540
सक्रिय
(5.43%)
कुल मामले
3,89,03,731
3,37,704
स्वस्थ हुए
(93.31%)
3,63,01,482
2,42,676
मृत्यु
(1.26%)
4,88,884
488
अंडमान और निकोबार 9,164
कुल मामले 9,164
सक्रिय 516
स्वस्थ हुए 8,519
मृत्यु 129
कुल टीके 6,26,049
आंध्र प्रदेश 21,53,268
कुल मामले 21,53,268
सक्रिय 64,136
स्वस्थ हुए 20,74,600
मृत्यु 14,532
कुल टीके 7,74,45,194
अरुणाचल प्रदेश 58,803
कुल मामले 58,803
सक्रिय 2,660
स्वस्थ हुए 55,861
मृत्यु 282
कुल टीके 15,52,405
असम 6,84,954
कुल मामले 6,84,954
सक्रिय 46,368
स्वस्थ हुए 6,32,311
मृत्यु 6,275
कुल टीके 4,05,95,354
बिहार 8,05,751
कुल मामले 8,05,751
सक्रिय 22,776
स्वस्थ हुए 7,70,802
मृत्यु 12,173
कुल टीके 10,91,64,224
चंडीगढ़ 83,735
कुल मामले 83,735
सक्रिय 9,260
स्वस्थ हुए 73,378
मृत्यु 1,097
कुल टीके 19,51,385
छत्तीसगढ़ 10,86,207
कुल मामले 10,86,207
सक्रिय 30,756
स्वस्थ हुए 10,41,746
मृत्यु 13,705
कुल टीके 3,27,98,555
दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव 11,144
कुल मामले 11,144
सक्रिय 244
स्वस्थ हुए 10,896
मृत्यु 4
कुल टीके 13,10,397
दिल्ली 17,71,028
कुल मामले 17,71,028
सक्रिय 61,954
स्वस्थ हुए 16,83,533
मृत्यु 25,541
कुल टीके 2,91,08,167
गोवा 2,25,165
कुल मामले 2,25,165
सक्रिय 21,974
स्वस्थ हुए 1,99,597
मृत्यु 3,594
कुल टीके 25,36,176
गुजरात 10,22,788
कुल मामले 10,22,788
सक्रिय 1,16,843
स्वस्थ हुए 8,95,730
मृत्यु 10,215
कुल टीके 9,60,55,408
हरियाणा 8,92,550
कुल मामले 8,92,550
सक्रिय 62,039
स्वस्थ हुए 8,20,357
मृत्यु 10,154
कुल टीके 3,85,72,257
हिमाचल प्रदेश 2,57,350
कुल मामले 2,57,350
सक्रिय 17,071
स्वस्थ हुए 2,36,354
मृत्यु 3,925
कुल टीके 1,18,76,507
जम्मू और कश्मीर 3,84,381
कुल मामले 3,84,381
सक्रिय 34,882
स्वस्थ हुए 3,44,908
मृत्यु 4,591
कुल टीके 2,01,34,352
झारखंड 4,17,403
कुल मामले 4,17,403
सक्रिय 23,770
स्वस्थ हुए 3,88,389
मृत्यु 5,244
कुल टीके 3,35,08,624
कर्नाटक 34,25,002
कुल मामले 34,25,002
सक्रिय 3,23,173
स्वस्थ हुए 30,63,292
मृत्यु 38,537
कुल टीके 9,30,09,993
केरल 55,52,512
कुल मामले 55,52,512
सक्रिय 2,24,258
स्वस्थ हुए 52,76,647
मृत्यु 51,607
कुल टीके 5,02,66,542
लद्दाख 24,213
कुल मामले 24,213
सक्रिय 1,101
स्वस्थ हुए 22,890
मृत्यु 222
कुल टीके 4,09,040
लक्षद्वीप 10,702
कुल मामले 10,702
सक्रिय 239
स्वस्थ हुए 10,412
मृत्यु 51
कुल टीके 1,14,433
महाराष्ट्र 74,20,027
कुल मामले 74,20,027
सक्रिय 2,68,181
स्वस्थ हुए 70,09,823
मृत्यु 1,42,023
कुल टीके 14,56,67,107
मणिपुर 1,29,257
कुल मामले 1,29,257
सक्रिय 2,860
स्वस्थ हुए 1,24,378
मृत्यु 2,019
कुल टीके 24,27,323
मेघालय 87,735
कुल मामले 87,735
सक्रिय 1,782
स्वस्थ हुए 84,458
मृत्यु 1,495
कुल टीके 22,60,496
मिजोरम 1,58,368
कुल मामले 1,58,368
सक्रिय 9,608
स्वस्थ हुए 1,48,182
मृत्यु 578
कुल टीके 14,20,754
मध्य प्रदेश 8,71,632
कुल मामले 8,71,632
सक्रिय 55,085
स्वस्थ हुए 8,05,990
मृत्यु 10,557
कुल टीके 10,84,74,075
नागालैंड 33,357
कुल मामले 33,357
सक्रिय 602
स्वस्थ हुए 32,050
मृत्यु 705
कुल टीके 14,38,955
उड़ीसा 11,87,295
कुल मामले 11,87,295
सक्रिय 79,365
स्वस्थ हुए 10,99,423
मृत्यु 8,507
कुल टीके 5,53,76,777
पुडुचेरी 1,47,870
कुल मामले 1,47,870
सक्रिय 14,122
स्वस्थ हुए 1,31,850
मृत्यु 1,898
कुल टीके 15,18,555
पंजाब 7,00,222
कुल मामले 7,00,222
सक्रिय 48,183
स्वस्थ हुए 6,35,126
मृत्यु 16,913
कुल टीके 3,04,88,023
राजस्थान 11,00,961
कुल मामले 11,00,961
सक्रिय 84,787
स्वस्थ हुए 10,07,115
मृत्यु 9,059
कुल टीके 9,05,91,316
सिक्किम 36,421
कुल मामले 36,421
सक्रिय 2,457
स्वस्थ हुए 33,545
मृत्यु 419
कुल टीके 10,55,623
तमिलनाडु 30,72,666
कुल मामले 30,72,666
सक्रिय 1,87,358
स्वस्थ हुए 28,48,163
मृत्यु 37,145
कुल टीके 9,08,17,526
तेलंगाना 7,26,819
कुल मामले 7,26,819
सक्रिय 29,127
स्वस्थ हुए 6,93,623
मृत्यु 4,069
कुल टीके 5,18,65,262
त्रिपुरा 97,376
कुल मामले 97,376
सक्रिय 8,196
स्वस्थ हुए 88,316
मृत्यु 864
कुल टीके 49,16,474
उत्तर प्रदेश 19,16,616
कुल मामले 19,16,616
सक्रिय 95,866
स्वस्थ हुए 17,97,728
मृत्यु 23,022
कुल टीके 24,53,91,273
उत्तराखंड 3,91,915
कुल मामले 3,91,915
सक्रिय 26,950
स्वस्थ हुए 3,57,497
मृत्यु 7,468
कुल टीके 1,53,34,552
पश्चिम बंगाल 19,49,074
कुल मामले 19,49,074
सक्रिय 1,34,816
स्वस्थ हुए 17,93,993
मृत्यु 20,265
कुल टीके 11,74,70,756

COVID-19 राज्यवार टीकाकरण

COVID-19 राज्यवार विवरण

अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र और स्लॉट की उपलब्धता पता करें

फिल्टर के द्वारा :

COVID-19 कोरोना वायरस की महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे से निपटने के लिए भारत सरकार सभी आवश्यक कदम उठा रही है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई जानकारी और सलाह को सावधानी व सही तरीके से पालन कर वायरस के स्थानीय प्रसार को रोका जा सकता है।

हेल्पलाइन नंबर

राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर: 011-23978046, 1075 (टोल फ्री)

  • अंडमान और निकोबार : 03192-232102
  • आंध्र प्रदेश : 104, 8297104104
  • अरुणाचल प्रदेश : 104, 0360-2292777, 0360-2292774, 0360-2292775
  • असम : 104
  • बिहार : 104
  • चंडीगढ़ : 9779558282
  • छत्तीसगढ़ : 104, 0771-2235091
  • दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव : 104
  • दिल्ली : 011-22307145, 1800-111-747, 8800007722
  • गोवा : 104
  • गुजरात : 104, 079-23250818, 079-23251900
  • हरियाणा : 8558893911
  • हिमाचल प्रदेश : 104
  • जम्मू और कश्मीर : 0191-2520982, 0194-2440283
  • झारखंड : 104
  • कर्नाटक : 104, 1075, 080-46848600, 080-66692000, 9745697456, 080-1070
  • केरल : 0471-2552056
  • लद्दाख : 0198-2256462
  • लक्षद्वीप : 104
  • महाराष्ट्र : 020-26127394
  • मणिपुर : 0385-2411668, 1800-345-3818
  • मेघालय : 108, 1070
  • मिजोरम : 102
  • मध्य प्रदेश : 104
  • नागालैंड : 7005539653, 1800-345-0019
  • उड़ीसा : 9439994859
  • पुडुचेरी : 104
  • पंजाब : 104
  • राजस्थान : 104, 108
  • सिक्किम : 104
  • तमिलनाडु : 044-29510500
  • तेलंगाना : 104
  • त्रिपुरा : 112, 0381-2315879, 8794534501
  • उत्तर प्रदेश : 1800-180-5145, 6389300137, 0522-4523000, 0522-2610145
  • उत्तराखंड : 104, 0135-2722100, 0135-2724506
  • पश्चिम बंगाल : 1800-313-444-222, 033-23412600
COVID-19 वैक्सीन की जानकारी के लिए वीडियो

यदि आप 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के हैं तो कोविड-19 टीकाकरण के लिए कोविन पर अपॉइंटमेंट कैसे बुक करें?

कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी

आखिरी अपडेट Jan 22, 2222- 04:45 hrs सभी देखें
आखिरी अपडेट Jan 22, 2222- 04:45 hrs सभी देखें

A. रजिस्ट्रेशन

1. कोविड-19 टीकाकरण के लिए मैं रजिस्ट्रेशन कहां कर सकता हूं?
आप www.cowin.gov.in लिंक के माध्यम से कोविनपोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं और कोविड-19 टीकाकरण के लिए ‘रजिस्टर/साइन इन योरसेल्फ’ पर क्लिक करें।
2. क्या कोविन वेबसाइट का उपयोग टीकाकरण प्रमाणपत्र व अन्य कार्यों के लिए एक दिन में सीमित संख्या में उपयोग हो सकता हैं?
नहीं, कोविन पोर्टल पर लॉग इन करने और प्रमाणपत्र पाने की कोई सीमा संख्या नहीं है। हालांकि, अगर कोई लगातार कोशिश करता है, तो सिस्टम ऐसे मामलों को बग के रूप में मानता है। यदि कोई अनजाने में गलत ओटीपी दर्ज करता है, तो 180 सेकंड की प्रतीक्षा अवधि के बाद किसी अन्य ओटीपी के लिए अनुरोध कर सकता है।
3. एक बार कोशिश करने के बाद क्या आपको दोबारा कोशिश करने के लिए कुछ समय इंतजार करना पड़ता है? दूसरे शब्दों में, क्या आप प्रति घंटे में केवल एक बार ही कोशिश कर सकते हैं?
यदि आपने 3 बार गलत ओटीपी दर्ज किया है, तो सिस्टम आपको लॉगिन की अनुमति नहीं देगा। फिर से लॉगिन करने के लिए ब्राउज़र को रीफ्रेश करें और अपने मोबाइल नंबर और नए ओटीपी के साथ लॉगिन करें।
4. क्या कोई मोबाइल ऐप है जिसे टीकाकरण पंजीकरण करने के लिए इंस्टॉल करने की आवश्यकता है?
आरोग्य सेतु को छोड़कर भारत में टीकाकरण पंजीकरण के लिए कोई भी अन्य अधिकृत मोबाइल ऐप नहीं है। आपको CoWIN पोर्टल में लॉग इन करना होगा। वैकल्पिक रूप से, आप आरोग्य सेतु ऐप और उमंग ऐप के माध्यम से भी टीकाकरण के लिए पंजीकरण कर सकते हैं।
5. कोविन पोर्टल पर किस आयुवर्ग के नागरिक टीकाकरण के लिए पंजीकरण करा सकते हैं?
18 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी नागरिक टीकाकरण के लिए पंजीकरण करा सकते हैं।
6. क्या कोविड टीकाकरण के लिए ऑनलाइन पंजीकरण अनिवार्य है?
टीकाकरण केंद्र प्रतिदिन सीमित संख्या में ऑन-स्पॉट पंजीकरण स्लॉट प्रदान करता हैं। 45 वर्ष और उससे अधिक आयु के लाभार्थी ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट शेड्यूल कर सकते हैं या टीकाकरण केंद्रों में सीधा जाकर पंजीकरण कर सकते हैं। 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के लाभार्थी ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट शेड्यूल कर सकते हैं या सरकारी टीकाकरण केंद्रों में जाकर पंजीकरण कर सकते हैं। हालांकि, 18-44 वर्ष की आयु के लाभार्थियों को अनिवार्य रूप से अपना पंजीकरण कराना चाहिए और निजी टीकाकरण केंद्र में जाने से पहले ऑनलाइन अपॉइंटमेंट शेड्यूल करना चाहिए।
7. स्मार्टफोन या कंप्यूटर के बिना नागरिक ऑनलाइन पंजीकरण किस तरह कर सकते हैं?
एक ही मोबाइल नंबर से 4 लोग टीकाकरण के लिए पंजीकरण करा सकते है। लाभार्थी ऑनलाइन पंजीकरण के लिए दोस्त या परिवार की मदद ले सकते हैं।
8. कोविन पोर्टल में एक मोबाइल नंबर के माध्यम से कितने लोगों पंजीकरण करा सकते है?
एक ही मोबाइल नंबर से 4 लोग टीकाकरण के लिए पंजीकरण कर सकते है।
9. क्या मैं बिना आधार कार्ड के टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकता हूं?
हां, आप कोविनपोर्टल पर निम्न पहचान पत्र के माध्यम से रजिस्टर कर सकते हैं: a. आधार कार्ड b. ड्राइविंग लाइसेंस c. पैन कार्ड d. पासपोर्ट e. पेंशन पासबुक f. एनपीआरस्मार्ट कार्ड g. वोटर आईटी (EPIC)
10. क्या पंजीकरण के लिए कोई शुल्क लिया जाता है?
नहीं, कोई पंजीकरण शुल्क नहीं है।

B. अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना

1. क्या मैं कोविन पोर्टल में टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट बुक कर सकता हूँ?
हाँ, आप अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर के माध्यम से CoWIN पोर्टल में लॉग-इन करने के बाद टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं।
2. एक नागरिक यदि 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र का है और दूसरा 18 या उससे अधिक उम्र का तो इसके लिए क्या विकल्प हैं?
यदि एक नागरिक की उम्र 45 या उससे अधिक उम्र है और दूसरे नागरिक की उम्र 18 से 44 वर्ष है और दोनों एक साथ अपॉइंटमेंट चाहते हैं तो केवल प्राइवेट पेडटीकाकरण केंद्र या राज्य की नीति के अनुसार टीकाकरण केंद्र ही उपलब्ध होंगे। हालांकि यह भी हो सकता है कि कुछ अस्पताल जो 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिकों का टीकाकरण कर रहे हैं, वे कम उम्र के नागरिकों को अपॉइंटमेंट न दें। इस दशा में आपको एक-एक करके बुकिंग करना होगा।
3. क्या मैं प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में लगाई जा रही टीके की जांच कर सकता हूं?
हां, टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट शेड्यूल करते समय, सिस्टम आपको टीकाकरण केंद्र के नाम के साथ उस वैक्सीन का नाम दिखाएगा जिसे लगाया जाना है।
4. क्या मैं अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड कर सकता/सकती हूं?
हां, अपॉइंटमेंटशेड्यूल होने के बाद अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड किया जा सकता है।
5. मुझे निकटतमटीकाकरण केंद्र की जानकारी कैसे मिलेगी?
आप पिनकोड के माध्यम से या अपना राज्य तथा जिला चुनकर कोविनपोर्टल (या आरोग्य सेतु ऐप) पर अपने निकटतमटीकाकरण केंद्र खोज सकते हैं।
6. क्या होगा अगर मैं अप्वाइंटमेंट की तारीख को टीकाकरण के लिए नहीं जा सका? क्या मैं अपनी अप्वाइंटमेंट की तिथि को बदल सकता हूं?
एक बार अपॉइंटमेंट शेड्यूल हो जाने पर, आपको अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर पर भेजे गए एसएमएस में टीकाकरण केंद्र, चुनी गई तिथि और समय स्लॉट का विवरण प्राप्त होगा। आप अपॉइंटमेंट स्लिप को डाउनलोड करके उसका प्रिंट भी ले सकते हैं या अपने स्मार्टफोन पर सुरक्षित रख सकते हैं।
7. क्या मेरे पास अपॉइंटमेंट रद्द करने का विकल्प है?
हां, आप पहले से शेड्यूल किए गए अपॉइंटमेंट को कैंसल कर सकते हैं। आप अपॉइंटमेंट को रिशेड्यूल भी कर सकते हैं औऱ कोई अन्य दिन या टाइम स्लॉट अपने सुविधानुसार चुन सकते हैं।
8. मुझे टीकाकरण के लिए दिन तथा समय कहां से मालूम होगा?
एक बार अपॉइंटमेंट तय होने के बाद आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर अपॉइंटमेंट के लिए चुने गए टीकाकरण केंद्र, दिन तथा समय का एसएमएस प्राप्त होगा। आप अपॉइंटमेंटस्लिप भी डाउनलोड कर सकते हैं या इसे अपने स्मार्ट फोन में रख सकते हैं।
9. क्या बिना अपॉइंटमेंट के मेरा टीकाकरण संभव है?
45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिक अपना अपॉइंटमेंट ऑनलाइन शेड्यूल कर सकते हैं या फिर टीकाकऱण केंद्र पर वॉक इन भी कर सकते हैं। 18-44 वर्ष के नागरिकों के लिए टीकाकरण से पहले रजिस्टर करना तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना अनिवार्य है।
10. जब मैं टीकाकरण केंद्र पर क्लिक करता हूं तो यह दिखाता है कि 'इस अवधि में कोई भी बुकिंग नहीं की जा सकती' फिर क्या करना चाहिए?
टीकाकरण केंद्र में टीके के लिए अपॉइंटमेंट शेड्यूल करने के लिए स्लॉट उपलब्ध न होने की स्थिति में, आप अपने आस-पास के अन्य केंद्रों में अपॉइंटमेंट शेड्यूल करने का प्रयास कर सकते हैं। पोर्टल आपको पिन कोड और जिले का उपयोग करके टीकाकरण केंद्रों को खोजने की सुविधा देता है।
11. कोविन के स्व-पंजीकरण खाता विवरण पोर्टल पर 4 अंक का सीक्रेट कोड क्या है?
टीकाकरण के समय, आपसे 4 अंकों का सीक्रेट कोड मांगा जा सकता है। यह सुनिश्चित किया जाता है कि सही लाभार्थी को वैक्सीन की डोज मिले और कोई दुरुपयोग न हो।

C. दूसरे डोज का निर्धारण

1. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
हां, इस बात की सलाह दी जाती है कि टीकाकरण के पूरे लाभ के लिए वैक्सीन की दोनों डोज ली जाए। दोनों डोज एक ही वैक्सीन की होनी चाहिए।
2. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
यह सलाह दी जाती है कि कोवैक्सीन की दूसरी डोज, पहली डोज के 4 से 6 सप्ताह के अंतराल पर ली जानी चाहिए। कोविशील्ड के लिए यह अंतराल 4 से 8 सप्ताह करने की सलाह दी जाती है, हालांकि 6-8 सप्ताह के अंतराल से सुरक्षा बढ़ जाती है। आप अपने सुविधा के अनुसार दूसरे डोज की दिन चुन सकते हैं।
3. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में टीकाकरण मुफ्त होगा। 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
4. अगर मुझे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से संबंधित कोई समस्या है तो मैं किसे संपर्क कर सकता हूं?
आप कोविड-19 टीकाकरण तथा कोविनसॉफ्टवेयर संबंधी जानकारी तथा गाइडेंस के लिए राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर‘1075’ पर संपर्क कर सकते हैं।

D. टीकाकरण

1. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में मुफ्त टीकाकरण जारी रहेग । 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
2. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
हां। अपॉइंटमेंट के समय सिस्टमटीकाकरण केंद्र के नाम के नीचे टीके की कीमत दर्शाया जाएगा।
3. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
सिस्टमअपॉइंटमेंट के निर्धारण के समय प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में लगाए जा रहे वैक्सीन का नाम दिखाएगी। नागरिक अपनी पसंद के अनुसार टीकाकरण केंद्र चुन सकते हैं। हालांकि सरकारी सुविधाओं में चुनने की सुविधा नहीं होगी।
4. टीकाकरण के दूसरे डोज के समय मुझे क्या सावधानियां बरतनी चाहिए?
टीकाकरण केंद्रों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि दूसरी डोज प्राप्त करने वाले नागरिकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्हें पहली डोज भी उसी वैक्सीन की दी गई है तथा पहली डोज को दूसरी डोज से 28 दिन पहले दिया गया हो। आप टीकाकरण करने वाले कर्मी के साथ पहले डोज की तारीख शेयर करनी चाहिए। आपको पहली डोज के समय जारी किए गए वैक्सीन प्रमाणपत्र को ले जाना चाहिए।
5. मैंने ऑन-साइट पंजीकरण के माध्यम से कोविड टीकाकरण की पहली डोज ली है। अब, जब मैंने दूसरी डोज के लिए ऑनलाइन बुक करने की कोशिश की तो मुझे पहली डोज के लिए अपॉइंटमेंट बुक करने के लिए कहा जा रहा है। अब मैं क्या करुँ?
कृपया सुनिश्चित करें कि आप दूसरी डोज की ऑनलाइन अपॉइंटमेंट बुकिंग के दौरान उसी मोबाइल नंबर का उपयोग कर रहे हैं जिसका उपयोग आपने पहली डोज लगाते समय किया था।
6. क्या मैं दूसरे राज्य/जिले में वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा सकता हूं?
हां, आप किसी भी राज्य/जिले में टीका लगवा सकते हैं। केवल प्रतिबंध यह है कि आप केवल उन्हीं केंद्रों पर टीका लगवा सकेंगे जो वही टीका दे रहे हैं जिसकी आपने पहली डोज लगाई थी।
7. टीकाकरण के लिए मुझे अपने साथ कौन से दस्तावेज ले जाने चाहिए?
आपको CoWIN पोर्टल पर पंजीकरण के समय आपके द्वारा दर्शाया गया पहचान प्रमाण और अपनी अप्वाइंटमेंट पर्ची का एक प्रिंटआउट/स्क्रीनशॉट साथ रखना चाहिए।
8. मैंने खुद को कोविन पोर्टल पर पंजीकृत किया है। हालाँकि, मैं कोई बुकिंग नहीं कर पा रहा हूँ क्योंकि मुझे अपने आसपास कोई टीकाकरण केंद्र नहीं मिल रहा है? मुझे क्या करना चाहिए?
हाँ, यह संभव है कि आपके स्थान के आस-पास की किसी भी संस्था ने अभी तक अपना टीकाकरण कार्यक्रम प्रकाशित नहीं किया हो। आप कुछ समय तक प्रतीक्षा कर सकते हैं जब तक आपके स्थान के नज़दीक टीकाकरण सुविधाएं CoWIN प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध, सक्रिय या शुरु नहीं हो जाती हैं।

E. वैक्सीन सर्टिफिकेट

1. मुझे टीकाकरण प्रमाणपत्र की आवश्यकता क्यों है?
सरकार द्वारा जारी COVID वैक्सीन सर्टिफिकेट (CVC) लाभार्थी को टीकाकरण के प्रति आश्वासन प्रदान करता है और अगले टीकाकरण के लिए भी मार्ग प्रशस्त करता है। यह लाभार्थी के लिए किसी भी संस्था को बताने का भी एक प्रमाण है, जिसे विशेष रूप से यात्रा के मामले में टीकाकरण प्रमाण की आवश्यकता हो सकती है। टीकाकरण न केवल व्यक्ति को बीमारी से बचाता है, बल्कि वायरस फैलने के जोखिम को भी कम करता है। इसलिए, भविष्य में अंतर्राष्ट्रीय यात्रा के लिए प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने की आवश्यकता हो सकती है। इस संदर्भ में CoWIN द्वारा जारी प्रमाण पत्र की वास्तविकता की गारंटी के लिए सुरक्षा विशेष का निर्माण किया गया है जिसे CoWIN पोर्टल में प्रदान की गई स्वीकृत उपयोगिताओं का उपयोग करके डिजिटल रूप से सत्यापित किया जा सकता है।
2. टीकाकरण प्रमाण पत्र प्रदान करने के लिए कौन जिम्मेदार है?
टीकाकरण केंद्र आपके प्रमाण पत्र को तैयार करने और टीकाकरण के दिन ही टीके की एक प्रति प्रदान करने के लिए जिम्मेदार है। कृपया केंद्र पर प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए कहें। निजी अस्पताल द्वारा प्रमाण पत्र की प्रति प्रदान करने का शुल्क टीकाकरण की सेवा शुल्क में शामिल है।
3. मैं टीकाकरण प्रमाणपत्र कहां से डाउनलोड कर सकता हूं?
आप सरल तरीकों का पालन करके CoWIN पोर्टल (cowin.gov.in), आरोग्य सेतु ऐप या डिजी-लॉकर के माध्यम से टीकाकरण प्रमाणपत्र डाउनलोड कर सकते हैं। आप पंजीकरण के समय उपयोग किए गए मोबाइल नंबर का उपयोग करके ऐसा कर सकते हैं।
4. मैं डिजिलॉकर से कोविड टीकाकरण प्रमाणपत्र कैसे प्राप्त कर सकता हूं?
आप स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के तहत स्वास्थ्य श्रेणी के डिजिलॉकर में टीकाकरण प्रमाण पत्र प्राप्त कर सकते हैं। कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट पर क्लिक करें और सर्टिफिकेट एक्सेस करने के लिए बेनिफिशियरी रेफरेंस आईडी दर्ज करें।

F. अंतर्राष्ट्रीय प्रमाण पत्र

1. मुझे अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र की आवश्यकता क्यों है?
स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने अंतर्राष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र जारी किया है जो कि विदेश यात्रा के लिए अंतरराष्ट्रीय मानकों का अनुपालन करता है। प्रमाणपत्र इस बात का प्रमाण है कि आपने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर यात्रा करने के लिए टीकाकरण की दोनो डोज प्राप्त कर ली हैं। यह प्रमाणपत्र आपको क्वारंटाइन या कोविड परीक्षण की झंझट के बिना कई देशों में प्रवेश की अनुमति देता है।
2. क्या मैं अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र के लिए आवेदन कर सकता हूं?
कोई भी व्यक्ति जिसने टीकाकरण की दोनो डोज प्राप्त कर ली है, वह अंतर्राष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र के लिए आवेदन कर सकता है।
3. क्या मैं अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र के साथ सभी देशों की यात्रा कर सकता हूँ?
विभिन्न देशों में प्रवेश की आवश्यकताएं भी विभिन्न हैं। आप इस प्रमाणपत्र के साथ कुछ देशों में प्रवेश करने में सक्षम हो जाते हैं, जबकि आपको अन्य देशों में कई प्रकार के टेस्ट रिजल्ट प्रदान करने पड़ सकते हैं।
4. मैं अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र के लिए कहां आवेदन कर सकता हूं?
आप www.cowin.gov.in पर जा सकते हैं और Register/Sign In पर क्लिक कर सकते हैं। रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से लॉग इन करें जिसका इस्तेमाल आपने रजिस्ट्रेशन के समय किया था। अपनी दोनों डोज के विवरण के सामने “अंतर्राष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र ” टैब पर क्लिक करें। आपको अपनी जन्मतिथि और पासपोर्ट नंबर दर्ज करना होगा और सबमिट पर क्लिक करना होगा।
5. मैं अपना अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र कहां से डाउनलोड कर सकता हूं?
आप इसे अपनी दोनों डोज के विवरण के तहत “अंतर्राष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र ”टैब से डाउनलोड कर सकते हैं।
6. मैं अपना अंतरराष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र कब डाउनलोड कर सकता हूं?
आपके अनुरोध के 2 घंटे के भीतर अंतर्राष्ट्रीय यात्रा प्रमाणपत्र तैयार हो जाते हैं। आवेदन करने के 2 घंटे बाद आप अपना प्रमाणपत्र डाउनलोड कर सकते हैं।

G. दुष्प्रभाव की रिपोर्टिंग

1. टीकाकरण से दुष्प्रभाव की स्थिति में, मैं किससे संपर्क करूँ?
आप निम्न में से किसी से भी संपर्क कर सकते हैं: a. हेल्पलाइन नंबर: +91-11-23978046 (टोलफ्री- 1075) b. टेक्निकलहेल्पलाइननंबर: 0120-4473222 c. हेल्पलाइनईमेल आईडी: support@cowin.gov.in आप सलाह के लिए उस टीकाकरण केंद्र पर भी संपर्क कर सकते हैं जहां से आपने टीकाकरण कराया है।

H. समस्या दर्ज करना

1. कोविन पोर्टल पर समस्याओं को कौन उठा सकता है?
टीकाकरण की कम से कम एक डोज प्राप्त करने वाले लाभार्थी CoWIN पोर्टल में समस्याओं को उठा सकते हैं।
2. मैं कोविन से संबंधित कोई समस्या/प्रश्न कहां उठा सकता हूं?
आप CoWIN पर पंजीकरण पोर्टल में लॉग इन कर सकते हैं। लेखा विवरण पृष्ठ पर, Raise an Issue टैब पर क्लिक करें।
3. कोविन पर किस प्रकार की समस्याओं के मुद्दे उठाए जा सकते हैं?
आप कोविन पर निम्नलिखित मुद्दों को उठा सकते हैं: b. ए. प्रमाणपत्र लेबल में सुधार b. बी. एक से अधिक डोज के प्रमाणपत्र को एक बनाना
4. कोविन पोर्टल को समस्या के समाधान में कितना समय लगता है?
पोर्टल में उठाई गई सभी समस्याओं को 24 घंटे के भीतर हल किया जाता है। लाभार्थी केवल एक बार अनुरोध किए जाने के बाद “Raise an Issue” टैब के बगल में “Track request” टैब पर क्लिक करके उठाए गई समस्याओं की स्थिति को ट्रैक कर सकते हैं।
5. मैं ऊपर उल्लेखित 5 श्रेणियों में सूचीबद्ध नहीं किए गए मुद्दों को कहां उठाऊं?
यदि कोई समस्या/शिकायत ऊपर उल्लिखित पांच श्रेणियों के अंतर्गत नहीं आती है, तो लाभार्थी नीचे दिए गए संपर्कों से विवरण जान सकते हैं: b. bए. हेल्पलाइन नंबर: +91-11-23978046 b. bबी. तकनीकी हेल्पलाइन नंबर: 0120-4473222

गतिविधियां

मिथक की सच्चाई/तथ्य देखें

#MyGovMythsBusters #MyGovFactCheck

सभी उम्र के लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो सकते हैं। बुजुर्ग, और पहले से बीमार लोग (जैसे कि अस्थमा, डायबिटीज़, हृदय रोग) इस वायरस के संक्रमण से गंभीर रूप से बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं

symptom

कोविड-19 के लक्षण

  • तेज बुखार तेज बुखार
  • सूखी खांसी सूखी खांसी
  • गले में खराश गले में खराश
  • सांस लेने में तकलीफ सांस लेने में तकलीफ

यह कैसे फैलता है

  • खाँसने या छींकने से हवा के जरिए खाँसने या छींकने से हवा के जरिए
  • व्यक्तिगत संपर्क व्यक्तिगत संपर्क
  • संक्रमित वस्तुओं संक्रमित वस्तुओं
  • जन समूह जन समूह

रोकथाम के उपाय

  • बार-बार हाथ धोएं बार-बार हाथ धोएं
  • फेस मास्क पहनें फेस मास्क पहनें
  • बीमार लोगों के संपर्क से बचें बीमार लोगों के संपर्क से बचें
  • खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें

वीडियो

मिथक की सच्चाई । कोरोना के लेकर हर ओर कई अफवाहें फैली है। ये है उसकी सच्चाई।

  • ठंड का मौसम और बर्फ कोरोनावायरस को नहीं मार सकते।
  • कोरोनो वायरस को मारने में हैंड ड्रायर प्रभावी नहीं हैं
  • ऐसा कोई प्रमाण नहीं है कि नियमित रूप से सलाइन से नाक धोने पर कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • गर्म और आर्द्र जलवायु वाले क्षेत्रों में कोरोनावायरस का संक्रमण हो सकता है।
  • अल्ट्रावायलेट का उपयोग त्वचा को कीटाणुमुक्त बनाने के लिए नहीं किया जाना चाहिए । यह त्वचा में जलन पैदा कर सकता है।
  • लहसुन में कुछ रोगाणुरोधी गुण हो सकते हैं। हालांकि, इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि लहसुन खाने से लोग वायरस के संक्रमण से बच जाते हैं।
  • मच्छर के काटने से कोरोना वायरस नहीं फैल सकता है।
  • थर्मल स्कैनर ऐसे लोगों की पहचान कर सकते हैं जिन्हें बुखार है। लेकिन वे कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों का पता नहीं लगा सकते।
  • एंटीबायोटिक्स वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं, एंटीबायोटिक्स केवल बैक्टीरिया से हुए संक्रमण को दूर करते हैं।
  • ऐसा कोई सबूत नहीं है कि कुत्ते या बिल्ली जैसे जानवर/ पालतू जानवर से कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है।
  • अल्कोहल या क्लोरीन का छिड़काव उन वायरस को मारने में मदद नहीं करेगा जो शरीर में प्रवेश कर चुके हैं। सिर्फ ऊपर से कीटाणुमुक्त रखने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है।
  • आज तक, कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने या इसके संक्रमण के इलाज के लिए कोई प्रामाणिक दवा उपलब्ध नहीं है।
  • गर्म स्नान से कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • न्यूमोनिया के खिलाफ टीके, जैसे कि न्यूमोकोकल वैक्सीन और हीमोफिलस इन्फ्लुएंजा टाइप बी (एचआईबी) वैक्सीन, कोरोनावायरस से बचाव नहीं करते हैं।
नोट : कंटेंट का स्रोत विश्व स्वास्थ्य संगठन