#IndiaFightsCorona कोरोना वायरस

011-23978046 , ncov2019[at]gov[dot]in
MyGov ऐप डाउनलोड करेंऔर कोविड से संबंधित नवीनतम जानकारी पाएं
कोरोना संबंधी राष्ट्रीय हेल्पलाइन नम्बर
1075 स्वास्थ्य मंत्रालय
1098 चाइल्ड हेल्पलाइन
08046110007 मनोवैज्ञानिक सहायता
14567 वरिष्ठ नागरिक
14443 आयुष परामर्श
9013151515 MyGov व्हाट्सएप हेल्पडेस्क
टीकाकरण
पंजीकरण
Register with  Co-WinRegister with Aarogya Setuumang के साथ पंजीकरण करें
अपना टीकाकरण
प्रमाणपत्र प्राप्त करें
मोबाइल नंबर दर्ज करें
कृपया ध्यान दें:
  • आपको वैक्सीन की कम से कम एक डोज पहले ही मिल चुकी होगी।
  • आपके पास 13/14 अंकों की लाभार्थी संदर्भ आईडी जरूर होगी।
  • प्रमाण पत्र डाउनलोड करने के लिए आपको CoWIN प्लेटफॉर्म पर पंजीकृत होना होगा। अगर CoWIN प्लेटफॉर्म पर रजिस्टर करते वक्त इस्तेमाल किया गया मोबाइल नंबर आपके मौजूदा नंबर से अलग है तो आपको इसे सत्यापित करना होगा। कृपया सुनिश्चित करें कि आपके पास वह ओटीपी उपलब्ध है।
आखिरी अपडेट : 03 Dec 2021, 08:00 IST (GMT+5:30)
कोविड-19 टीकाकरण राज्यवार
टीकाकरण आज
73,67,230 पूर्व दिवस पर वैक्सीन के डोज
1,25,75,05,514 वैक्सीन के कुल डोज
Dec 02, 2021 तक SARS-CoV-2 (कोविड-19)
की जांच की स्थिति
11,57,156Dec 02, 2021 को कुल सैंपल की जांच हुई
64,46,68,082 कुल सैंपल की जांच की गई
देश भर में मामले राज्यवार
99,976
213
सक्रिय
(0.29%)
कुल मामले
3,46,15,757
9,216
स्वस्थ हुए
(98.35%)
3,40,45,666
8,612
मृत्यु
(1.36%)
4,70,115
391
अंडमान और निकोबार 7,686
कुल मामले 7,686
सक्रिय 7
स्वस्थ हुए 7,550
मृत्यु 129
कुल टीके 5,55,525
आंध्र प्रदेश 20,73,252
कुल मामले 20,73,252
सक्रिय 2,138
स्वस्थ हुए 20,56,670
मृत्यु 14,444
कुल टीके 6,00,24,850
अरुणाचल प्रदेश 55,285
कुल मामले 55,285
सक्रिय 36
स्वस्थ हुए 54,969
मृत्यु 280
कुल टीके 14,08,004
असम 6,17,163
कुल मामले 6,17,163
सक्रिय 2,535
स्वस्थ हुए 6,08,517
मृत्यु 6,111
कुल टीके 3,33,70,014
बिहार 7,26,230
कुल मामले 7,26,230
सक्रिय 32
स्वस्थ हुए 7,16,534
मृत्यु 9,664
कुल टीके 8,24,29,976
चंडीगढ़ 65,475
कुल मामले 65,475
सक्रिय 65
स्वस्थ हुए 64,590
मृत्यु 820
कुल टीके 15,78,338
छत्तीसगढ़ 10,06,870
कुल मामले 10,06,870
सक्रिय 328
स्वस्थ हुए 9,92,949
मृत्यु 13,593
कुल टीके 2,60,39,790
दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव 10,683
कुल मामले 10,683
सक्रिय 0
स्वस्थ हुए 10,679
मृत्यु 4
कुल टीके 11,16,008
दिल्ली 14,41,190
कुल मामले 14,41,190
सक्रिय 307
स्वस्थ हुए 14,15,785
मृत्यु 25,098
कुल टीके 2,28,56,759
गोवा 1,79,046
कुल मामले 1,79,046
सक्रिय 367
स्वस्थ हुए 1,75,295
मृत्यु 3,384
कुल टीके 23,19,619
गुजरात 8,27,570
कुल मामले 8,27,570
सक्रिय 318
स्वस्थ हुए 8,17,158
मृत्यु 10,094
कुल टीके 8,15,25,236
हरियाणा 7,71,760
कुल मामले 7,71,760
सक्रिय 178
स्वस्थ हुए 7,61,528
मृत्यु 10,054
कुल टीके 2,88,28,156
हिमाचल प्रदेश 2,27,354
कुल मामले 2,27,354
सक्रिय 835
स्वस्थ हुए 2,22,669
मृत्यु 3,850
कुल टीके 1,10,38,605
जम्मू और कश्मीर 3,37,263
कुल मामले 3,37,263
सक्रिय 1,697
स्वस्थ हुए 3,31,089
मृत्यु 4,477
कुल टीके 1,66,99,800
झारखंड 3,49,271
कुल मामले 3,49,271
सक्रिय 95
स्वस्थ हुए 3,44,035
मृत्यु 5,141
कुल टीके 2,46,37,252
कर्नाटक 29,96,833
कुल मामले 29,96,833
सक्रिय 6,772
स्वस्थ हुए 29,51,845
मृत्यु 38,216
कुल टीके 7,54,52,240
केरल 51,51,919
कुल मामले 51,51,919
सक्रिय 45,030
स्वस्थ हुए 50,66,034
मृत्यु 40,855
कुल टीके 4,31,27,853
लद्दाख 21,642
कुल मामले 21,642
सक्रिय 306
स्वस्थ हुए 21,122
मृत्यु 214
कुल टीके 3,83,564
लक्षद्वीप 10,397
कुल मामले 10,397
सक्रिय 18
स्वस्थ हुए 10,328
मृत्यु 51
कुल टीके 1,04,968
महाराष्ट्र 66,37,221
कुल मामले 66,37,221
सक्रिय 10,882
स्वस्थ हुए 64,85,290
मृत्यु 1,41,049
कुल टीके 11,52,43,575
मणिपुर 1,25,269
कुल मामले 1,25,269
सक्रिय 663
स्वस्थ हुए 1,22,627
मृत्यु 1,979
कुल टीके 21,68,206
मेघालय 84,534
कुल मामले 84,534
सक्रिय 296
स्वस्थ हुए 82,764
मृत्यु 1,474
कुल टीके 19,83,969
मिजोरम 1,35,765
कुल मामले 1,35,765
सक्रिय 3,717
स्वस्थ हुए 1,31,545
मृत्यु 503
कुल टीके 12,95,968
मध्य प्रदेश 7,93,199
कुल मामले 7,93,199
सक्रिय 128
स्वस्थ हुए 7,82,543
मृत्यु 10,528
कुल टीके 8,81,51,778
नागालैंड 32,128
कुल मामले 32,128
सक्रिय 128
स्वस्थ हुए 31,302
मृत्यु 698
कुल टीके 12,89,471
उड़ीसा 10,49,597
कुल मामले 10,49,597
सक्रिय 2,211
स्वस्थ हुए 10,38,971
मृत्यु 8,415
कुल टीके 4,38,40,680
पुडुचेरी 1,28,998
कुल मामले 1,28,998
सक्रिय 299
स्वस्थ हुए 1,26,826
मृत्यु 1,873
कुल टीके 12,48,467
पंजाब 6,03,352
कुल मामले 6,03,352
सक्रिय 344
स्वस्थ हुए 5,86,402
मृत्यु 16,606
कुल टीके 2,42,29,163
राजस्थान 9,54,827
कुल मामले 9,54,827
सक्रिय 213
स्वस्थ हुए 9,45,659
मृत्यु 8,955
कुल टीके 6,88,58,560
सिक्किम 32,267
कुल मामले 32,267
सक्रिय 137
स्वस्थ हुए 31,727
मृत्यु 403
कुल टीके 9,93,750
तमिलनाडु 27,28,350
कुल मामले 27,28,350
सक्रिय 8,155
स्वस्थ हुए 26,83,691
मृत्यु 36,504
कुल टीके 7,07,36,941
तेलंगाना 6,76,376
कुल मामले 6,76,376
सक्रिय 3,680
स्वस्थ हुए 6,68,701
मृत्यु 3,995
कुल टीके 3,80,18,990
त्रिपुरा 84,835
कुल मामले 84,835
सक्रिय 94
स्वस्थ हुए 83,916
मृत्यु 825
कुल टीके 45,84,657
उत्तर प्रदेश 17,10,417
कुल मामले 17,10,417
सक्रिय 93
स्वस्थ हुए 16,87,413
मृत्यु 22,911
कुल टीके 16,38,12,323
उत्तराखंड 3,44,325
कुल मामले 3,44,325
सक्रिय 182
स्वस्थ हुए 3,36,735
मृत्यु 7,408
कुल टीके 1,27,41,776
पश्चिम बंगाल 16,17,408
कुल मामले 16,17,408
सक्रिय 7,690
स्वस्थ हुए 15,90,208
मृत्यु 19,510
कुल टीके 9,31,17,461

COVID-19 राज्यवार टीकाकरण

COVID-19 राज्यवार विवरण

अपने नजदीकी टीकाकरण केंद्र और स्लॉट की उपलब्धता पता करें

फिल्टर के द्वारा :

COVID-19 कोरोना वायरस की महामारी से उत्पन्न चुनौती और खतरे से निपटने के लिए भारत सरकार सभी आवश्यक कदम उठा रही है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा प्रदान की गई जानकारी और सलाह को सावधानी व सही तरीके से पालन कर वायरस के स्थानीय प्रसार को रोका जा सकता है।

हेल्पलाइन नंबर

राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर: 011-23978046, 1075 (टोल फ्री)

  • अंडमान और निकोबार : 03192-232102
  • आंध्र प्रदेश : 104, 8297104104
  • अरुणाचल प्रदेश : 104, 0360-2292777, 0360-2292774, 0360-2292775
  • असम : 104
  • बिहार : 104
  • चंडीगढ़ : 9779558282
  • छत्तीसगढ़ : 104, 0771-2235091
  • दादरा और नागर हवेली और दमन और दीव : 104
  • दिल्ली : 011-22307145, 1800-111-747, 8800007722
  • गोवा : 104
  • गुजरात : 104, 079-23250818, 079-23251900
  • हरियाणा : 8558893911
  • हिमाचल प्रदेश : 104
  • जम्मू और कश्मीर : 0191-2520982, 0194-2440283
  • झारखंड : 104
  • कर्नाटक : 104, 1075, 080-46848600, 080-66692000, 9745697456, 080-1070
  • केरल : 0471-2552056
  • लद्दाख : 0198-2256462
  • लक्षद्वीप : 104
  • महाराष्ट्र : 020-26127394
  • मणिपुर : 0385-2411668, 1800-345-3818
  • मेघालय : 108, 1070
  • मिजोरम : 102
  • मध्य प्रदेश : 104
  • नागालैंड : 7005539653, 1800-345-0019
  • उड़ीसा : 9439994859
  • पुडुचेरी : 104
  • पंजाब : 104
  • राजस्थान : 104, 108
  • सिक्किम : 104
  • तमिलनाडु : 044-29510500
  • तेलंगाना : 104
  • त्रिपुरा : 112, 0381-2315879, 8794534501
  • उत्तर प्रदेश : 1800-180-5145, 6389300137, 0522-4523000, 0522-2610145
  • उत्तराखंड : 104, 0135-2722100, 0135-2724506
  • पश्चिम बंगाल : 1800-313-444-222, 033-23412600
COVID-19 वैक्सीन की जानकारी के लिए वीडियो

यदि आप 18 वर्ष या उससे अधिक उम्र के हैं तो कोविड-19 टीकाकरण के लिए कोविन पर अपॉइंटमेंट कैसे बुक करें?

कोरोना वायरस से जुड़ी जानकारी

आखिरी अपडेट Dec 03, 2121- 04:19 hrs सभी देखें
आखिरी अपडेट Dec 03, 2121- 04:19 hrs सभी देखें

A. रजिस्ट्रेशन

1. कोविड-19 टीकाकरण के लिए मैं रजिस्ट्रेशन कहां कर सकता हूं?
आप www.cowin.gov.in लिंक के माध्यम से कोविनपोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं और कोविड-19 टीकाकरण के लिए ‘रजिस्टर/साइन इन योरसेल्फ’ पर क्लिक करें।
2. क्या कोई ऐसा ऐप है जिसे टीकाकरण हेतु रजिस्टर करने के लिए इंस्टॉल करना होगा?
भारत में टीकाकरण के रजिस्ट्रेशन के लिए आरोग्य सेतु के अलावा कोई भी अधिकृत ऐप नहीं मौजूद है। आपको कोविनपोर्टल के माध्यम से लॉग इन करना होगा। वैकल्पिक रुप से आप आरोग्य सेतु ऐप के माध्यम से भी रजिस्टर कर सकते हैं।
3. कोविनपोर्टल पर टीकाकरण के लिए कौन से आयु समूह रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं?
18 वर्ष से अधिक उम्र के सभी नागरिक टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।
4. क्या कोविड-19 टीकाकरण के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन अनिवार्य है?
टीकाकरण केंद्र प्रतिदिन सीमित संख्या में रजिस्ट्रेशनस्लॉट उपलब्ध कराते हैं। 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिक टीकाकरण केंद्रों पर ऑनलाइन या वॉक-इन अपॉइंटमेंटशेड्यूल कर सकते हैं। हालांकि, 18-44 वर्ष के नागरिकों को टीकाकऱण केंद्र पर जाने से पहले अनिवार्य रुप से अपना रजिस्ट्रेशन तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना होगा। सामान्य तौर पर सभी नागरिकों को भीड़ मुक्त अनुभव के लिए टीकाकरण केंद्र पर जाने से पहले खुद को रजिस्टर करने तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करने की सलाह दी जाती है।
5. एक ही मोबाइल नंबर से कोविनपोर्टल पर कितने लोग रजिस्टर कर सकते हैं?
एक ही मोबाइल नंबर से अधिकतम 4 लोग टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकते हैं।
6. जिन नागरिकों के पास स्मार्ट फोन या कंप्यूटर नहीं उपलब्ध है वे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करेंगे?
एक ही मोबाइन नंबर से अधिकतम 4 लोग रजिस्टर कर सकते हैं। नागरिक ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए दोस्तों या परिवार से मदद ले सकते हैं।
7. क्या मैं बिना आधार कार्ड के टीकाकरण के लिए रजिस्टर कर सकता हूं?
हां, आप कोविनपोर्टल पर निम्न पहचान पत्र के माध्यम से रजिस्टर कर सकते हैं: a. आधार कार्ड b. ड्राइविंग लाइसेंस c. पैन कार्ड d. पासपोर्ट e. पेंशन पासबुक f. एनपीआरस्मार्ट कार्ड g. वोटर आईटी (EPIC)
8. क्या रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क भी देय होगा?
नहीं। रजिस्ट्रेशन के लिए कोई शुल्क नहीं है।

B. अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना

1. क्या मैं टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंटकोविनपोर्टल के माध्यम से बुक कर सकता हूं?
हां, आप अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर के माध्यम से कोविनपोर्टल पर लॉग इन करके टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट बुक कर सकते हैं। सिस्टम वह टीकाकरण केंद्र प्रदर्शित करेगा जो नागरिक द्वारा रजिस्ट्रेशनपोर्टल पर डाले गए उम्र के अनुसार टीकाकरण की अनुमति प्रदान करते हैं।
2. एक नागरिक यदि 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र का है और दूसरा 18 या उससे अधिक उम्र का तो इसके लिए क्या विकल्प हैं?
यदि एक नागरिक की उम्र 45 या उससे अधिक उम्र है और दूसरे नागरिक की उम्र 18 से 44 वर्ष है और दोनों एक साथ अपॉइंटमेंट चाहते हैं तो केवल प्राइवेट पेडटीकाकरण केंद्र या राज्य की नीति के अनुसार टीकाकरण केंद्र ही उपलब्ध होंगे। हालांकि यह भी हो सकता है कि कुछ अस्पताल जो 45 वर्ष या उससे अधिक उम्र के नागरिकों का टीकाकरण कर रहे हैं, वे कम उम्र के नागरिकों को अपॉइंटमेंट न दें। इस दशा में आपको एक-एक करके बुकिंग करना होगा।
3. क्या मैं यह जान सकता हूं कि टीकाकरण केंद्र पर कौन सी वैक्सीन लगाई जा रही है?
हां, प्राइवेट अस्पतालों में टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंटशेड्यूल करते समय सिस्टम में आपको केंद्र के नाम के साथ कौन सी वैक्सीन लगाई जाएगी यह भी पता चलेगा। सरकारी अस्पतालों में वैक्सीन का नाम नहीं भी पता चल सकता है।
4. क्या मैं अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड कर सकता/सकती हूं?
हां, अपॉइंटमेंटशेड्यूल होने के बाद अपॉइंटमेंटस्लिपडाउनलोड किया जा सकता है।
5. मुझे निकटतमटीकाकरण केंद्र की जानकारी कैसे मिलेगी?
आप पिनकोड के माध्यम से या अपना राज्य तथा जिला चुनकर कोविनपोर्टल (या आरोग्य सेतु ऐप) पर अपने निकटतमटीकाकरण केंद्र खोज सकते हैं।
6. यदि मैं अपने अपॉइंटमेंट के दिन नहीं जा सकता हूं तब क्या होगा? क्या मैं अपना अपॉइंटमेंटरिशेड्यूल कर सकता हूं?
अपॉइंटमेंट को किसी भी समय रिशेड्यूल किया जा सकता है। यदि आप टीकाकरण के लिए अपॉइंटमेंट के दिन नहीं जा सकते हैं तो आप‘रिशेड्यूल’ टैब पर क्लिक करके अपना अपॉइंटमेंटरिशेड्यूल कर सकते हैं।
7. क्या मेरे पास अपॉइंटमेंट रद्द करने का विकल्प है?
हां, आप पहले से शेड्यूल किए गए अपॉइंटमेंट को कैंसल कर सकते हैं। आप अपॉइंटमेंट को रिशेड्यूल भी कर सकते हैं औऱ कोई अन्य दिन या टाइम स्लॉट अपने सुविधानुसार चुन सकते हैं।
8. मुझे टीकाकरण के लिए दिन तथा समय कहां से मालूम होगा?
एक बार अपॉइंटमेंट तय होने के बाद आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर अपॉइंटमेंट के लिए चुने गए टीकाकरण केंद्र, दिन तथा समय का एसएमएस प्राप्त होगा। आप अपॉइंटमेंटस्लिप भी डाउनलोड कर सकते हैं या इसे अपने स्मार्ट फोन में रख सकते हैं।
9. क्या बिना अपॉइंटमेंट के मेरा टीकाकरण संभव है?
45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिक अपना अपॉइंटमेंट ऑनलाइन शेड्यूल कर सकते हैं या फिर टीकाकऱण केंद्र पर वॉक इन भी कर सकते हैं। 18-44 वर्ष के नागरिकों के लिए टीकाकरण से पहले रजिस्टर करना तथा अपॉइंटमेंटशेड्यूल करना अनिवार्य है।

C. दूसरे डोज का निर्धारण

1. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
हां, इस बात की सलाह दी जाती है कि टीकाकरण के पूरे लाभ के लिए वैक्सीन की दोनों डोज ली जाए। दोनों डोज एक ही वैक्सीन की होनी चाहिए।
2. मुझे टीकाकरण की दूसरी डोज कब लेनी चाहिए?
यह सलाह दी जाती है कि कोवैक्सीन की दूसरी डोज, पहली डोज के 4 से 6 सप्ताह के अंतराल पर ली जानी चाहिए। कोविशील्ड के लिए यह अंतराल 4 से 8 सप्ताह करने की सलाह दी जाती है, हालांकि 6-8 सप्ताह के अंतराल से सुरक्षा बढ़ जाती है। आप अपने सुविधा के अनुसार दूसरे डोज की दिन चुन सकते हैं।
3. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में टीकाकरण मुफ्त होगा। 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
4. अगर मुझे ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन से संबंधित कोई समस्या है तो मैं किसे संपर्क कर सकता हूं?
आप कोविड-19 टीकाकरण तथा कोविनसॉफ्टवेयर संबंधी जानकारी तथा गाइडेंस के लिए राष्ट्रीय हेल्पलाइन नंबर‘1075’ पर संपर्क कर सकते हैं।

D. टीकाकरण

1. क्या सभी टीकाकरण केंद्रों पर टीकाकरण मुफ्त है?
नहीं। वर्तमान में सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त है तथा 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए प्राइवेट अस्पतालों में 250 रुपये का शुल्क देय है। 1 मई से 45 वर्ष से अधिक उम्र के नागरिकों के लिए सरकारी सुविधाओं में मुफ्त टीकाकरण जारी रहेग । 18 से 44 वर्ष के नागरिकों के लिए भुगतान की नीति की घोषणा राज्य करेगी। टीकाकरण के लिए प्राइवेट सुविधाओं पर शुल्क देय होगा, आप बुकिंग के समय प्रत्येक वैक्सीन का मूल्य देख सकते हैं।
2. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
हां। अपॉइंटमेंट के समय सिस्टमटीकाकरण केंद्र के नाम के नीचे टीके की कीमत दर्शाया जाएगा।
3. क्या मैं वैक्सीन का मूल्य देख सकता हूं?
सिस्टमअपॉइंटमेंट के निर्धारण के समय प्रत्येक टीकाकरण केंद्र में लगाए जा रहे वैक्सीन का नाम दिखाएगी। नागरिक अपनी पसंद के अनुसार टीकाकरण केंद्र चुन सकते हैं। हालांकि सरकारी सुविधाओं में चुनने की सुविधा नहीं होगी।
4. टीकाकरण के दूसरे डोज के समय मुझे क्या सावधानियां बरतनी चाहिए?
टीकाकरण केंद्रों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि दूसरी डोज प्राप्त करने वाले नागरिकों को यह सुनिश्चित करना होगा कि उन्हें पहली डोज भी उसी वैक्सीन की दी गई है तथा पहली डोज को दूसरी डोज से 28 दिन पहले दिया गया हो। आप टीकाकरण करने वाले कर्मी के साथ पहले डोज की तारीख शेयर करनी चाहिए। आपको पहली डोज के समय जारी किए गए वैक्सीन प्रमाणपत्र को ले जाना चाहिए।
5. क्या मैं किसी दूसरे राज्य/जिले में वैक्सीन की दूसरी डोज लगवा सकता हूं?
हां, आप किसी भी राज्य/जिले में टीकाकरण करवा सकते हैं। इसके लिए एकमात्र शर्त यही है कि आप उसी केंद्र पर टीकाकरण कराएंगे जो वही वैक्सीन लगा रहा है जो आपने पहली डोज में ली थी।
6. टीकाकरण के लिए मुझे कौन से डॉक्यूमेंट अपने साथ ले जाना चाहिए?
आपको अपने साथ कोविनपोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करते समय इस्तेमाल किए गए पहचान पत्र तथा अपने अपॉइंटमेंटस्लिप की प्रिंटआउट/स्क्रिनशॉट लेकर जाना होगा।
7. मैंने कोविनपोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन कराया है लेकिन मैं अभी बुकिंग नहीं करा पा रहा हूं क्यों मुझे अपने लोकेशन के पास कोई टीकाकरण केंद्र नहीं दिख रहा है?मुझे क्या करना चाहिए?
हां यह संभव है कि आपके आस-पास किसी भी केंद्र ने अपने टीकाकरण कार्यक्रम को अभी तक पब्लिश न किया हो। आप कुछ समय तक इंतजार कर सकते हैं, जब कि आपके आस-पास टीकाकरण केंद्र सक्रिय न हो जाएं और अपनी सुविधाएं शुरु करें।

E. टीकाकरण प्रमाण पत्र

1. मुझे टीकाकरण प्रमाणपत्र की आवश्यकता क्यों है?
सरकार द्वारा जारी किया गया कोविडटीकाकरण प्रमाणपत्र (CVC) मेंलाभार्थियों को दी गई वैक्सीन और टीकाकरण की आगामी तिथि का जिक्र होता है। यह नागरिकों को इस बात का प्रमाण भी प्रदान करता है कि उनका टीकाकरण हो चुका है, विशेषकर यात्रा के लिए आवश्यक होने पर। टीकाकरण न सिर्फ लोगों को बीमारी से बचाता है बल्कि वायरस फैलने के खतरे को भी कम करता है। इसलिए भविष्य में कुछ सामाजिक गतिविधियों तथा अंतर्राष्ट्रीय यात्रा के लिए इसकी आवश्यकता हो सकती है। इसलिए कोविन पर प्रमाणपत्र का बिल्ट-इन फीचर है, जिसे कोविनपोर्टल पर उपलब्ध जानकारी के आधार डिजिटली सत्यापित किया जा सकता है।
2. टीकाकरण प्रमाण पत्र प्रदान करने की जिम्मेदारी किसकी है?
आपके प्रमाणपत्र को जेनेरेट करने तथा इसकी एक मुद्रित प्रति प्रदान की जिम्मेदारी टीकाकरण केंद्र की है। कृपया टीकाकरण केंद्र से प्रमाणपत्र अवश्य ले लें। प्राइवेट अस्पतालों के टीकाकरण शुल्क में ही मुद्रित प्रति प्रदान करने का शुल्क भी शामिल है।
3. मैं टीकाकरण प्रमाणपत्र कहां से डाउनलोड कर सकता हूं?
आप टीकाकरण प्रमाणपत्र कोविनपोर्टल (cowin.gov.in) या आरोग्य सेतु ऐप या डिजी-लॉकर का के जरिए आसान तरीके से डाउनलोड किया जा सकत है। आप रजिस्ट्रेशन के समय उपयोग किए गए मोबाइल नंबर के जरिए भी इसे प्राप्त कर सकते हैं।

F. दुष्प्रभाव की रिपोर्टिंग

1. टीकाकरण से होने वाले दुष्प्रभाव की दशा में किससे संपर्क करना होगा?
आप निम्न में से किसी से भी संपर्क कर सकते हैं: a. हेल्पलाइन नंबर: +91-11-23978046 (टोलफ्री- 1075) b. टेक्निकलहेल्पलाइननंबर: 0120-4473222 c. हेल्पलाइनईमेल आईडी: support@cowin.gov.in आप सलाह के लिए उस टीकाकरण केंद्र पर भी संपर्क कर सकते हैं जहां से आपने टीकाकरण कराया है।

गतिविधियां

मिथक की सच्चाई/तथ्य देखें

#MyGovMythsBusters #MyGovFactCheck

सभी उम्र के लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हो सकते हैं। बुजुर्ग, और पहले से बीमार लोग (जैसे कि अस्थमा, डायबिटीज़, हृदय रोग) इस वायरस के संक्रमण से गंभीर रूप से बीमारी से ग्रस्त हो जाते हैं

symptom

कोविड-19 के लक्षण

  • तेज बुखार तेज बुखार
  • सूखी खांसी सूखी खांसी
  • गले में खराश गले में खराश
  • सांस लेने में तकलीफ सांस लेने में तकलीफ

यह कैसे फैलता है

  • खाँसने या छींकने से हवा के जरिए खाँसने या छींकने से हवा के जरिए
  • व्यक्तिगत संपर्क व्यक्तिगत संपर्क
  • संक्रमित वस्तुओं संक्रमित वस्तुओं
  • जन समूह जन समूह

रोकथाम के उपाय

  • बार-बार हाथ धोएं बार-बार हाथ धोएं
  • फेस मास्क पहनें फेस मास्क पहनें
  • बीमार लोगों के संपर्क से बचें बीमार लोगों के संपर्क से बचें
  • खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें खांसते या छींकते वक्त मुंह ढक कर रखें

वीडियो

मिथक की सच्चाई । कोरोना के लेकर हर ओर कई अफवाहें फैली है। ये है उसकी सच्चाई।

  • ठंड का मौसम और बर्फ कोरोनावायरस को नहीं मार सकते।
  • कोरोनो वायरस को मारने में हैंड ड्रायर प्रभावी नहीं हैं
  • ऐसा कोई प्रमाण नहीं है कि नियमित रूप से सलाइन से नाक धोने पर कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • गर्म और आर्द्र जलवायु वाले क्षेत्रों में कोरोनावायरस का संक्रमण हो सकता है।
  • अल्ट्रावायलेट का उपयोग त्वचा को कीटाणुमुक्त बनाने के लिए नहीं किया जाना चाहिए । यह त्वचा में जलन पैदा कर सकता है।
  • लहसुन में कुछ रोगाणुरोधी गुण हो सकते हैं। हालांकि, इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि लहसुन खाने से लोग वायरस के संक्रमण से बच जाते हैं।
  • मच्छर के काटने से कोरोना वायरस नहीं फैल सकता है।
  • थर्मल स्कैनर ऐसे लोगों की पहचान कर सकते हैं जिन्हें बुखार है। लेकिन वे कोरोना वायरस के संक्रमित लोगों का पता नहीं लगा सकते।
  • एंटीबायोटिक्स वायरस के खिलाफ काम नहीं करते हैं, एंटीबायोटिक्स केवल बैक्टीरिया से हुए संक्रमण को दूर करते हैं।
  • ऐसा कोई सबूत नहीं है कि कुत्ते या बिल्ली जैसे जानवर/ पालतू जानवर से कोरोना वायरस का संक्रमण फैल सकता है।
  • अल्कोहल या क्लोरीन का छिड़काव उन वायरस को मारने में मदद नहीं करेगा जो शरीर में प्रवेश कर चुके हैं। सिर्फ ऊपर से कीटाणुमुक्त रखने के लिए इसका उपयोग किया जा सकता है।
  • आज तक, कोरोनावायरस के संक्रमण को रोकने या इसके संक्रमण के इलाज के लिए कोई प्रामाणिक दवा उपलब्ध नहीं है।
  • गर्म स्नान से कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव होता है।
  • न्यूमोनिया के खिलाफ टीके, जैसे कि न्यूमोकोकल वैक्सीन और हीमोफिलस इन्फ्लुएंजा टाइप बी (एचआईबी) वैक्सीन, कोरोनावायरस से बचाव नहीं करते हैं।
नोट : कंटेंट का स्रोत विश्व स्वास्थ्य संगठन