महात्मा गांधी के रचनात्मक कार्यों पर विचार पर अनुच्छेद लेखन प्रतियोगिता - विषय: शिक्षा

Last Date Sep 15,2019 17:30 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

"मेरी वास्तविक राजनीति ही रचनात्मक कार्य है" के कथन के दौरान ...

"मेरी वास्तविक राजनीति ही रचनात्मक कार्य है" के कथन के दौरान राष्ट्रपिता ने समाज के समग्र विकास की नींव को मजबूत बनाने के लिए नागरिकों के योगदान की महत्ता को ध्यान में रखा। आत्मनिर्भरता व एकता को बढ़ावा देने के साथ-साथ "महात्मा" ने 18 ऐसे रचनात्मक कार्यों का उल्लेख किया है जो मुख्य रूप से उनके सिद्धांतों को व्यवहारिक बनाते हैं।

आत्मसुधार और सामुदायिक विकास हेतु विचारों की इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए गांधी स्मृति और दर्शन समिति (जीएसडीएस) आपको आमंत्रित करती है।

इस पखवाड़े का विषय है शिक्षा : समावेशी विकास हेतु व्यवहारिक जीवन में इस्तेमाल होने वाले अग्रणी सिद्धांत

आइये, समकालीन दुनिया में शिक्षा और इसके महत्व का पता लगाएं और इसके फायदे को जानें।

प्रविष्टियों को भेजने की अंतिम तिथि 15 सितंबर, 2019 है।

नियम और शर्तें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसी भी प्रश्न के लिए, संपर्क करें:
011-23392278

विवरण देखें Hide Details
इस कार्य के लिए प्राप्त हुई प्रविष्टियाँ
946
कुल
0
स्वीकृत
946
समीक्षाधीन