परिवेश के लिए एक टैगलाइन सुझाएं- पांच 'अमृत तत्व' के सार को कैप्चर करें

परिवेश के लिए एक टैगलाइन सुझाएं- पांच 'अमृत तत्व' के सार को कैप्चर करें
आरंभ करने की तिथि :
May 07, 2022
अंतिम तिथि :
May 15, 2022
23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

प्लानिंग व प्रोमोशन के लिए पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ...

प्लानिंग व प्रोमोशन के लिए पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय केंद्र सरकार के प्रशासनिक ढांचे में एक नोडल एजेंसी है; जो भारत की पर्यावरण और वानिकी नीतियों और कार्यक्रमों के कार्यान्वयन का समन्वय और पर्यवेक्षण करता है। जानवरों के कल्याण को सुनिश्चित करने, प्रदूषण की रोकथाम और उपशमन हेतु मंत्रालय का प्राथमिक लक्ष्य देश के प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण से संबंधित नीतियों और कार्यक्रमों का कार्यान्वयन है, जिसमें झीलें और नदियाँ, इसकी जैव विविधता, वन और वन्यजीव शामिल हैं।

आइए जाने - परिवेश क्या है?

परिवेश एक भूमिका-आधारित वर्कफ़्लो सॉफ़्टवेयर एप्लिकेशन है, जिसे पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा पर्यावरण, वन, वन्य जीव के संबंध में केंद्र, राज्य और जिला स्तर के अधिकारी से CRZ मंजूरी के लिए ऑनलाइन प्रस्तुत प्रस्तावों की निगरानी करने के लिए विकसित किया गया है। यह प्रस्तावों की संपूर्ण ट्रैकिंग को स्वचालित करता है जिसमें एक नया प्रस्ताव ऑनलाइन जमा करना, प्रस्तावों के विवरण का संपादन / अद्यतन करना शामिल है और यह वर्कफ़्लो के प्रत्येक चरण में प्रस्तावों की स्थिति प्रदर्शित करता है।

मंत्रालय का इरादा परिवेश को वन-स्टॉप सॉल्यूशन बनाना है, जो सभी क्लीयरेंस प्रक्रियाओं और संबंधित हितधारकों की मांगों के लिए एंड-टू-एंड कार्यक्षमता प्रदान करता है। MoEF&CC सभी हितधारकों को जल्द और समय पर सेवा प्रदान करने के लिए परिवेश में परिवर्तनकारी सुधारों को लागू करने का इरादा रखता है। इसके अलावा, सिस्टम को "अधिकतम शासन, न्यूनतम सरकार" की नीति के साथ न्यूनतम मानवीय हस्तक्षेप प्राप्त करने का प्रयास करना चाहिए।

उसी के संदर्भ में, मंत्रालय देश भर के नागरिकों को परिवेश के लिए टैगलाइन प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए आमंत्रित करता है।
1. टैगलाइन अभियान (टिप: पांच 'अमृत तत्व'-अमृत तत्व)
2. परिवेश का अर्थ (टिप: हरित प्रशासन, अधिकतम शासन, न्यूनतम सरकार आदि के रूप में सेवा करने हेतु एक अंब्रेला)

पुरस्कार

जीतने वाली प्रविष्टियों को प्रथम पुरस्कार के रूप में रु 10,000/- , द्वितीय पुरस्कार के रूप में रु 5,000/- के साथ योगदान के लिए प्रमाण पत्र दिया जाएगा। पुरस्कार राशि टीडीएस की कटौती के बाद देय होगी। सभी विजेताओं को डिजाइन का कॉपीराइट भारत सरकार को देना होगा। विजेता द्वारा ईमेल के माध्यम भेजे गए बैंक विवरण के अनुसार पुरस्कार राशि केवल इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर के माध्यम से विजेता के खाते में हस्तांतरित की जाएगी।

नियम एवं शर्तें देखने हेतु यहाँ क्लिक करें (PDF-98.5KB)

जमा करने की अंतिम तिथि: 15 मई 2022

इस कार्य के लिए प्राप्त हुई प्रविष्टियाँ
467
कुल
0
स्वीकृत
467
समीक्षाधीन