कस्तूरबा गांधी के योगदान को कविताओं, चित्रों और रेखाचित्रों के माध्यम से व्यक्त करें

Last Date Jan 15,2020 23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
View Result प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

आश्रम में मां की भूमिका निभाते हुए कस्तूरबा गांधी-बा ने ऐतिहासिक ...

आश्रम में मां की भूमिका निभाते हुए कस्तूरबा गांधी-बा ने ऐतिहासिक स्वतंत्रता आंदोलन में महिलाओं के नेतृत्व के साथ-साथ समाज में रचनात्मक बदलाव के लिए विभिन्न कदम उठाए जिससे लोगों के मन, शरीर और आत्मा पर व्यापक असर पड़ा।
अब कस्तूरबा गांधी की 150 वीं जयंती के अवसर पर गांधी स्मृति और दर्शन समिति आपको कविता, चित्र और रेखाचित्र के माध्यम से बा के योगदान को रचनात्मक तरीके से व्यक्त करने के लिए आमंत्रित करती है।

भाषा:
प्रतियोगिता केवल हिंदी और अंग्रेजी में आयोजित की जाएगी

विषय:
Kasturba Gandhi-Leader cum Nurturer of Constructive changes
कस्तूरबा गाँधी -रचनात्मक परिवर्तनों की नेता और पोषणकर्ता

पुरस्कार:
कविता, पेंटिंग और स्केच की प्रत्येक गतिविधि में शीर्ष तीन विजेताओं को 1100 रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।

भेजने की अंतिम तिथि 15 जनवरी, 2020 है

नियमों और शर्तों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

किसी भी प्रश्न के लिए संपर्क करें:
011-23392710

विवरण देखें Hide Details
इस कार्य के लिए प्राप्त हुई प्रविष्टियाँ
1340
कुल
0
स्वीकृत
1340
समीक्षाधीन
रीसेट