उमंग ऐप से जुड़ी अपनी कहानियां व अनुभव साझा करें

Last Date Oct 20,2020 23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

उमंग ऐप 23 नवंबर 2017 को माननीय प्रधानमंत्री जी के द्वारा देश को समर्पित ...

उमंग ऐप 23 नवंबर 2017 को माननीय प्रधानमंत्री जी के द्वारा देश को समर्पित किया गया था। इस ऐप का उद्देश्य उपयोग में सरलता और सुविधा के लिए सभी नागरिक केंद्रित सुविधाओं को एक जगह पर उपलब्ध कराना है। उमंग ऐप पर केंद्र सरकार, राज्य सरकार/केंद्र शासित राज्य, स्थानीय निकायों की सभी प्रमुख सेवाओं को उपलब्ध कराना अनिवार्य है। उमंग ऐप का विस्तार से विवरण नीचे दिया है।

शुरु होने के बहुत कम ही समय में उमंग ऐप ने 4 प्रमुख पुरस्कार अपने नाम कर लिया।
1- फरवरी 2018 में दुबई में आयोजित 6वीं वर्ल्ड गवर्नमेंट समिट में सर्वश्रेष्ठ एम-गवर्नमेंट सर्विस का पुरस्कार दिया गया है।
2- ओम्नी एक्सपीरियंस इनोवेटर कैटेगरी में डिजिटल ट्रांसफार्मेशन अवार्ड
3- जूरी चॉइस कैटगरी के अंदर डिजिटल इंडिया अवार्ड 2018
4- नागरिक केंद्रित सुविधाओं के लिए 2018-19 का राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस पुरस्कार-स्वर्ण

उमंग ऐप पर 1300 से अधिक सेवाएं (298 केंद्र की, 445 राज्य विभागों की, 580 बिल भुगतान से संबंधित) 144 विभागों और 26 राज्यों से संबंधित उपलब्ध हैं और इसके 2 करोड़ से अधिक रजिस्टर यूजर्स हैं।

उमंग ऐप के इस्तेमाल से यूजर्स की जिंदगी को आसान बनाने में कैसे मदद की इस बारे सभी यूजर्स को अपने अनुभव साझा करने के लिए आमंत्रित किया जाता है।

टेस्टिमोनियल वीडियो कैसे बनाएं और कैसे साझा करें
1- वीडियो 1 से 2 मिनट का होना चाहिए जिसकी ऑडियो और वीडियो क्वालिटी अच्छी होनी चाहिए।
2- अपना वीडियो रिकॉर्ड करके यूट्यूब पर अपलोड कीजिए।
3- माईगव पर लॉगिन कीजिए और अपनी सभी जानकारी जैसे नाम, संपर्क विवरण और पता भरिये।
4- कमेंट बॉक्स में आप अपने वीडियो की लिंक साझा कीजिए (वीडियो अपलोड नहीं करना है)

सबसे बेहतरीन वीडियो को उमंग और डिजीटल इंडिया के सोशल मीडिया पेज पर शेयर किया जायेगा।

नियमों और शर्तों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें।

भेजने की आखिरी तारीख 15 अक्टूबर 2020 है

विवरण देखें Hide Details
इस कार्य के लिए प्राप्त हुई प्रविष्टियाँ
811
कुल
0
स्वीकृत
811
समीक्षाधीन
रीसेट