Mann Ki Baat - Prime Minister’s Radio Programme on August 26, 2018

Prime Minister of India Shri Narendra Modi's address to the nation - #MannKiBaat on All India Radio was held on August 26, 2018.

ओपन फोरम
इस बात के लिए टिप्पणियाँ बंद हो गईं।
25720
Georgie s cherian 2 साल 2 महीने पहले

The closing of Alcohol bars & beverages shop in many parts of kerala and in India had resulted the use of drugs , cocaine, Khanja , oppiuam , tambaccu to overcome the shortage of Alcohol .

It is necessary to give life sentence or kife sentence death to people who is doing drug trafficing and those drug addict to minium 5 year imprisonment to control drug abuse
Death sentence had to given to people who are womeniser even he is a god man or any other leader to prevent violence against women

100
Sanjeev 2 साल 2 महीने पहले

प्रधानमंत्री जी को सादर नमन. आप की Jyada tar नीतियों से सहमत हैं पर आपके द्वारा कठोरता से लागू किए गए एससी एसटी एक्ट और रिजर्वेशन इन प्रमोशन से हम सहमत नहीं है . भारत जैसे देश में जहां किसी पर भी इल्जाम लगाना कोई ज्यादा बड़ी बात नहीं है ऐसे में बिना जमानत के किसी को दोषी ठहरा देना और फिर जेल में डाल देना जमानत भी ना होना यह तो तुगलकी फरमान जैसा हुआ. आज मुजफ्फरनगर के कर्नल का केस देख सकते हो और भी असंख्य केस हैं जो बाद में झूठे निकले है तो फिर यह तालिबानी फरमान क्यों.

610
vikash_149 2 साल 2 महीने पहले

माननीय प्रधानमंत्री जी मैं सीकर राजस्थान में एक जनरल स्टोर द्वार सेवा चलाता हु मेने मेरे दुकान में प्लास्टिक की थैली बन्द कर रखी ह लेकिन इसमें बहुत समस्या आती ह जब लोग बोलते ह की बाकी सब दुकानदार दे रहे ह आप क्यों नही देते हो इससे भी ज्यादा तकलीफ जब होती ह जब लोग बोलते ह की सरकार इस बारे में कुछ नही कर रही तो आप क्यों देश की चिंता कर रहे हो लेकिन हमारे यहां पॉलीथिन हम बिल्कुल भी नही देते इससे दुकानदारी पर बजी असर पड़ रहा ह समझ मे नही आता क्या करे आप इस पर विचार करे और अपने मन की बात में बताए

610
vikash_149 2 साल 2 महीने पहले

माननीय प्रधानमंत्री जी आरक्षण मुक्त भारत की घोषणा आपको करनी चाहिए आपने अभी जो अनुसूचित जाती जनजाति अधिकार कानून में संसोधन किया ह उससे हमे समाज को जवाब देने में बहुत समस्या आ रही ह

660
Charuhas Mujumdar 2 साल 2 महीने पहले

Respected Prime Minister Sir,
Education, being one of the fundamental rights, should be made available free of cost to all Indian citizens. It should be purely merit based without any reservation. Financially challenged students should be given due assistance by the government. The whole education system should be under total government control.
I know it is a huge project. But I believe in your ability and hope you get elected, for many more terms to come, to make this come true!
Jai Hind!

890
Sanjiv kr gupta 2 साल 2 महीने पहले

प्रधानमंत्रीजी कृपया छलावा करनेवाली NPS को खत्म करके पुरानी पेंशन योजना फिर से शुरू कर दीजिये।
सभी सांसद तो पुरानी पेंशन का लाभ उठा रहे है।