Mann Ki Baat - Prime Minister’s Radio Programme on 24th November, 2019

Prime Minister of India Shri Narendra Modi's address to the nation - #MannKiBaat at 11 am, November 24, 2019 on All India Radio.

ओपन फोरम
इस बात के लिए टिप्पणियाँ बंद हो गईं।
39330
Anurag Shukla 1 महीना 4 सप्ताह पहले

No doubt ,we hold responsible political parties for bed governance in a five year term but in fact there should also be audit of functioning of bureaucracy in those five years. This evaluation will help states and center bureaucracy to evolve new strategies while dealing with corrupt politicians.In fact we have to learn from Japan's governance in which corrupt politicians are unable to dent/restrict/hinder development of Japan.

39330
Anurag Shukla 1 महीना 4 सप्ताह पहले

We should make drinking water a fundamental right. To implement it we have to make a survey of all under ground water sources and make water report card for each village and sub village,towns.A water test report should be made public in polluted under ground water sources with immediate action taken report. Water rationing should be start in all polluted water sources.
Both man made pollution and natural polluted water sources area's villages should be identified for water rationing.

45970
Anil Kumar Chauhan 1 महीना 4 सप्ताह पहले

आदरणीय प्रधानमंत्री जी, यदि आप हमारे शोध पत्रों को मीडिया में प्रकाशित करा दें तो हम लोग पानी और ऊर्जा की समस्या को हमेशा के लिए हल कर सकते हैं। इन्सूलेटेड प्लेटों की सहायता से बाह्य वैद्युत क्षेत्र लगाकर समुद्री पानी से आयनों को अलग करके पीने योग्य शुद्ध पानी प्राप्त होगा। इस प्रक्रिया में कोई विशेष ऊर्जा भी नहीं लगेगा। इसी प्रक्रिया से शुद्ध पानी से हाइड्रोजन आयन और हाइड्राक्सिल आयनों को अलग करके असीमित ऊर्जा भी प्राप्त किया जा सकता है। सुविधा मिले तो हम लोग कई प्रकार के सड़ने वाले प्लास्टिको

45970
Anil Kumar Chauhan 1 महीना 4 सप्ताह पहले

अफ्रीकन ब्रेड फ्रूट के 130 करोड़ पेड़ 20 करोड़ टन प्रोटीन समृद्ध खाद्यान्न का उत्पादन कर सकते हैं। परन्तु इसके लिए इस आलेख को मीडिया में प्रकाशित करा कर इसका क्रियान्वयन कर प्रायोगिक धरातल पर उतारना पडेगा। सुनियोजित पौधरोपण से कुपोषण और बेरोजगारी की समस्या को हल किया जा सकता है। इससे किसानों की आय मे भी कई गुना की वृद्धि की जा सकती है।

45970
Anil Kumar Chauhan 1 महीना 4 सप्ताह पहले

आदरणीय प्रधानमंत्री जी, हम लोग सुनियोजित पौधरोपण से अपने देश को 15 वषोॅ में एक पूर्ण विकसित देश बना सकते हैं। देश के विभिन्न जलवायु क्षेत्रों में उग सकने वाले हजारों प्रकार के फल, सब्जी , साग, खाद्य तेल, अनाज व औषधियाँ प्रदान करने वाले वृक्ष व झाडियों को सड़क, नहर, रेलवे, व नदी, नालों के किनारे लगाकर आवश्यकता से अधिक विभिन्न वस्तुओं का उत्पादन किया जा सकता है। माया ब्रेड नट के 130 करोड़ पेड़ 40 करोड़ टन खाद्यान्न का उत्पादन कर सकते हैं।सफाउ फल के 130 करोड़ पेड़ 15 करोड़ टन खाद्य तेल, अफ्रीकन ब्र

3580
Sandipan Das 1 महीना 4 सप्ताह पहले

Respected PM Sir,
Our town Silchar is a very dirty town. You may enquire this from any third party or govt. official to get real ground picture not from local leaders or SMB Commissioner they will hide their inefficiency. Kindly do needful and take necessary action under Clean India Mission. The work procedure of SMB is very poor. I am very hopeful. Thanks.

100320
rajendrakumar rebari 1 महीना 4 सप्ताह पहले

We need a good society...it need organisational vision and coordination...we need wine free addiction free society . We need pollution free air ..then we need to read Ghandhi's principles...love for nature and creatures required. We need a good character....so as members of society we should give one hour to society...every day ..
.regards

1060
Bhuvnesh 1 महीना 4 सप्ताह पहले

प्रिय PM ji,
आपने सब कुछ किया,मगर आपने कभी उनलोगो ,उन युवाओं के लिये कुछ न्ही किया जो आज प्राइवेट सैक्टर मे नौकरी के लिये बहुत struggle कर रहे है। ना ही उनको जॉब मिल पा रही है,और ना स्कूल,कॉलेज जो आज इतनी ज्यादा fees लेते है,कोई guarantee न्ही देते placement ki,
ऐसे situation me बेचारा वो युवा क्या करे,
इतनी degree लेने के बाद भी बेरोजगार है।
मै भी उनमे से एक हू।क्या होगा ऐसे लोगो का।
कभी आपने सोचा है।
क्या ऐसे ही ये देश मजबूत होगा, क्या ऐसे growth and development कर पायेगा।
युवा परेशान है।

520
PAVAN V NAIK 1 महीना 4 सप्ताह पहले

Respected sir,
It's my immense pleasure to be a part of such a great opportunity you provided to citizens of India. But in the same way I feel sorry for those girls who have strengthen their hearts after overcoming a great tragedies in their lives. Yes I'm referring those girls who have raped or given sexual harassment by our country's so called RAPISTS. YES...Our country is land of culture and the only country in the world worshipping even a woman as god. But now???