CPGRAMS पर सार्वजनिक शिकायतों के बेहतर प्रबंधन के लिए अपने विचार साझा करें

Last Date Dec 05,2019 23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)

केंद्रीयकृत सार्वजनिक शिकायत निवारण और निगरानी प्रणाली (CPGRAMS) एनआईसी ...

केंद्रीयकृत सार्वजनिक शिकायत निवारण और निगरानी प्रणाली (CPGRAMS) एनआईसी द्वारा विकसित NICNET पर आधारित एक ऑनलाइन वेब है, जिसे सार्वजनिक शिकायत निदेशालय (डीपीजी) और प्रशासनिक सुधार व लोक शिकायत विभाग (डीएआरपीजी) के सहयोग से तैयार किया गया है।
CPGRAMS वेब प्रौद्योगिकी पर आधारित मंच है जो मुख्य रूप से परेशान नागरिकों को कहीं से भी और कभी भी (24x7) शिकायत दर्ज करने में सक्षम बनाता है। इसी के आधार पर मंत्रालय / विभाग / संगठन / राज्य सरकारें जांच कर कार्रवाई करती हैं और इन शिकायतों का त्वरित व अनुकूल निवारण करती है। यह पोर्टल हर शिकायत का एक यूनिक पंजीकरण संख्या जारी करता है जिससे इन शिकायतों की स्थिति को ट्रैक करने की भी सुविधा मिलती है।

CPGRAMS: मुख्य विशेषता
86 मंत्रालय और भारत सरकार के विभाग के साथ एकीकृत
36 राज्य / केन्द्र शासित प्रदेश इससे संबद्ध हैं
51000 अधीनस्थ कार्यालय बनाए और जोड़े गए
औसत निपटान समय लगभग 200 दिनों से घट कर 19 दिन हो गया
18 लाख / वर्ष शिकायतें इस व्यवस्था के प्रति नागरिकों के विश्वास को दर्शाती है
90% से अधिक औसत निपटान दर

उद्देश्य
नागरिकों के लिए निपटान प्रक्रिया को और सरल व सुविधाजनक बनाना
जन शिकायतों का त्वरित निपटान
नागरिकों की अत्यधिक संतुष्टि के लिए सार्वजनिक शिकायतों के निपटान की गुणवत्ता में सुधार

शिकायत निवारण विभाग की मौजूदा प्रक्रिया को सरल बनाने के लिए प्रशासनिक सुधार और सार्वजनिक शिकायत विभाग (डीएआरपीजी) आपको अपने सुझाव व विचार साझा करने के लिए आमंत्रित करता है।

CPGRAMS (Pgportal.gov.in) पोर्टल पर जन शिकायतों के प्रबंधन को सुव्यवस्थित करने के लिए अपने विचार / सुझाव दें।

5 दिसंबर 2019 तक आप अपने सुझाव दे सकते हैं।

See Details Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
1277 सबमिशन दिखा रहा है
29360
rajendrakumar rebari 3 घंटे 59 मिनट पहले

Sir example is infront of all-when airport and metro can maintain clean environment why *hospitals are behind*they need more to be neat and clean,Sir every village,city and department authorities should be on common online complaint registration portal 2 address the problem in a time frame with positive results.At last citizens are our own.They have faith in country interest.so they should be feciliate while solving problem, It must be closed on their satisfaction.reduce problem of rule position

62960
V K TYAGI 4 घंटे 2 मिनट पहले

CPGRAMS का पोर्टल सरकार का एक सबसे अच्छा प्रयास है जिससे लोग अपनी शिकायत सरकार तक इसके माध्यम से कर सकते है इस पर सरकार को की गई शिकायत पर शिकायत का समाधान भी हो जाता है लेकिन हम चाहते है कि इस पर एक फीचर और जोड़ दिया जाय ताकि शिकायत सही पाए जाने पर उस सरकारी व्यक्ति के खिलाफ भी कार्यवाही का भी प्रावधान होना आवश्यक है ताकि ऐसी व्यवस्था बन जाय कि लोगों को शिकायत की जरूरत ही न पड़े

2100
BALA SAI BHARATH 5 घंटे 26 मिनट पहले

In ancient times, a king had his men place a boulder on a roadway. He then hid in the bushes, and watched to see if anyone would move the boulder out of the way. Some of the king’s wealthiest merchants and courtiers passed by and simply walked around it.

Many people blamed the King for not keeping the roads clear, but none of them did anything about getting the stone removed.

One day, a peasant came along carrying vegetables.

3060
Rupesh Kumar 5 घंटे 43 मिनट पहले

Respected Modi Ji
विरोध JNU वाले ही कर सकते है क्या ?
अब हम भी विरोध करेंगे, पैसा इनके बाप का नहीं है, हमारा दिया हुआ टैक्स है... और हम सभी उसके हिसाब जरूर लेंगे आखिर क्यों न ले हमसभी के घर के लड़के 20 वर्ष होते ही कोई न कोई कार्य कर सरकार को टैक्स भरते है और jnu में 40 साल के गदहों को फ्री सुविधा देकर देश विरोधी नारे लगवाए जा रहे यानी जिस थाली में खाओ उसी में छेद करो तो हम सभी वो थाली ही छिनने जानते है ये अपील हमसभी की होनी चाहिये राष्ट्रपत

30510
SURESH KUMAR GURUSAMY 5 घंटे 54 मिनट पहले

Pranams sir. In CPGRAMS, A separate direct link should be provided for Swach Bharat activities. If anything important about Swach Bharat complaints , the people can register their complaints. Each and every block of the country, Health inspectors have been appointed. They may solve the problems and feedback should be given. People will also happy. Country will also be cleaned. Bharat Mata ki jai. jai hind.