30 जनवरी 2022 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम के लिए भेजें अपने सुझाव

Inviting ideas for Mann Ki Baat by Prime Minister Narendra Modi on 30th January 2022
आरंभ करने की तिथि :
Jan 01, 2022
अंतिम तिथि :
Jan 28, 2022
23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर आपसे जुड़े महत्वपूर्ण विषयों ...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर आपसे जुड़े महत्वपूर्ण विषयों पर अपने विचार साझा करेंगे। मन की बात कार्यक्रम के 85 वें संस्करण के लिए प्रधानमंत्री आपसे सुझाव आमंत्रित करते हैं, ताकि इस कार्यक्रम में आपके नूतन सुझावों व प्रगतिशील विचारों को शामिल किया जा सके।

'मन की बात' के आगामी संस्करण में आप जिन विषयों व मुद्दों पर प्रधानमंत्री से चर्चा सुनना चाहते हैं, उससे संबंधित अपने सुझाव व विचार भेजना न भूलें। आप अपने सुझाव इस ओपन फोरम के माध्यम से साझा कर सकते हैं अथवा हमारे टॉल फ्री नंबर 1800-11-7800 डायल करके प्रधानमंत्री के लिए अपना सन्देश हिन्दी अथवा अंग्रेजी में रिकॉर्ड करा सकते हैं। कुछ चुनिंदा संदेशों को 'मन की बात' में भी शामिल किया जा सकता है।

इसके अलावा आप 1922 पर मिस्ड कॉल करके एसएमएस के जरिए प्राप्त लिंक का इस्तेमाल कर सीधे प्रधानमंत्री को भी सुझाव भेज सकते हैं।

30 जनवरी 2022 को सुबह 11:00 बजे मन की बात कार्यक्रम सुनना न भूलें|

रीसेट
3144 सबमिशन दिखा रहा है
10360
shivkumari verma 2 मिनट 53 सेकंड पहले

सुप्रभात सर जी
पहला सुख निरोगी काया।
स्वास्थ की परिभाषा में तन, मन विचार और सामाजिक स्वास्थ तीनों आते हैं। परंतु भारत जैसे देश जहां सदेव मन विचार और सामाजिक स्वास्थ को विशेष महत्व दिया जाता था आज सिर्फ बाहरी अथवा शारीरिक स्वास्थ को ही सर्वोपरि बना दिया है। ऐसे देश सामाजिक बीमारी से ग्रस्त होता जा रहा है , इसका कारण है चिकित्सा की तीनों विधाओं को एक समान न अवसर देना न ही दर्जा देना । केवल एलोपैथी के सहारे भारत एक दिन मानसिक पीड़ित देश में बदल जायेगा इसलिए।stop nihilism in medicine for other pathy

300
Sujeet K Mishra 1 घंटा 8 मिनट पहले

Dear PM,
There are a lot of Schemes for Housing for all. As we all know housing is a basic need, if a person is building their own home by some construction company the applicable GST is 18% however if they are purchasing it, Its upto 5%. This is completely demotivation to build individual houses.
Please Exempt GST on Construction services for Individual Residential Houses. So that it can be cheap and it is capturing the bottom of pyramid. This step will really encourge people to build their dream home in this crisis.

Regards

7710
J S PANDEY 1 घंटा 43 मिनट पहले

Min of Coprn status on Coop. Law pl :

1. if someone has dual citizenship then he cannot contest any election in Cooperative.
2.if a Corporator becomes a MLA/MP during his tenure he will hv to step down & serve by staying in any one post.
3.While in a Coop. Orgn, the corporator or any member of his family shall not establish any business relationship with that orgn.
4.Before contesting any coop. election outside the country,a provision should be made to seek permission from the Govt. if not.

0
raju bc 3 घंटे 23 सेकंड पहले

Respected sir. 🙏

please change the our banking systems urban banks rural development Banks house loan banks commercial banks now days bankers r becoming commission agents. like every banking process they r ask money. they r like apmc agents. one word said like corruption centers. there's no transparency in banking system.

thanks and regards
raju barikar

24110
Shantam Kumar Prasad 3 घंटे 21 मिनट पहले

Modi ji engineering main standard codes ko algorithm based kar dena chahiye jo ek software main preloaded hoga.. aur students directly usse se padhai kar sake... taki agar latest codes ke hisab se aggar koi change aaya to loog uske saath adapt kar sake.. students old codes padh kar quality karte hai phir job main ek baar phir Naya standard padna padta hai... agar software bases algorithm system se kaam hoga to latest technology se sabhi log update ho sakenge...
aaisa karne se moden construction techniques ko adopt karna easy ho jayega aur saste Naim Jayda mazboot construction ho payega..ye cheez sabhi field main Kiya ja sakta hai... #digitalindia# ##madeinindia# #atamnirbhar# #engineering# #codes#

1300
Puranchand Panda 3 घंटे 36 मिनट पहले

PM जी दिनों दिन mobile Recharge का भाव LPG Gas cylinder के आसपास हो गया है. आज कल internet का बहुत आवश्यकता होती है लेकिन टेलीकॉम कंपनियों दाम बढ़ाते जा रहे हैं. भारत में हर कोई इतना afford कर सकता है ऐसा नहीं है इसीलिए esha कुछ kijiye की गरीबों को उचित मूल्य पर मोबाइल data मिल सके.

2430
satya singh 3 घंटे 37 मिनट पहले

Sir humein ek policy banani chahiye jaise sabhi log kameti daalte hai bharat mein 130 cror log rahte hai agar 100 cror bhi 500 Rs har Koi de jisme aam naagrik, film star, SPORTMEN, businessmen, M. P, M. L. A, Neta bhi ho sabhi 500Rs de or jo saksam ho wo zayda bhi de sake 2 din paisa jama karne ke our 3 din sabhi ke account me kuch Dhanrashi daali jaaye to sabhi ko thoda sahyog milega har mahine cameti ki tarha har mahine like salary ek no jaari karein paise daalne ke liye har mahine sabhi ko ek salary milegi sabhi ki aarthik haalat kuch bahtar hogi samudyik shakti se mumkin hai 500 Rs mahine har koi de sakta hai agar 100 cror log bhi Jude to bhi kuch raahat sabhi ko mil sakti hai berozgari ka bojh bhi kam ho sakta hai aam insaan star ko superstar bana sakta hai to kya bollywood ke log unki madat nahi kar sakte kyonki jab garib film nahi dekh payega to star superstar kaise banega to sabko jodkar ye ho sakta hai jab APNA PAISA APNI SALARY saamuhik samarthan se MUMKIN hai