24 अक्टूबर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम के लिए भेजें अपने सुझाव

Inviting ideas for Mann Ki Baat by Prime Minister Narendra Modi on 24th October 2021
आरंभ करने की तिथि :
Oct 04, 2021
अंतिम तिथि :
Oct 22, 2021
23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर आपसे जुड़े महत्वपूर्ण विषयों ...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर आपसे जुड़े महत्वपूर्ण विषयों पर अपने विचार साझा करेंगे। मन की बात कार्यक्रम के 82 वें संस्करण के लिए प्रधानमंत्री आपसे सुझाव आमंत्रित करते हैं, ताकि इस कार्यक्रम में आपके नूतन सुझावों व प्रगतिशील विचारों को शामिल किया जा सके।

'मन की बात' के आगामी संस्करण में आप जिन विषयों व मुद्दों पर प्रधानमंत्री से चर्चा सुनना चाहते हैं, उससे संबंधित अपने सुझाव व विचार भेजना न भूलें। आप अपने सुझाव इस ओपन फोरम के माध्यम से साझा कर सकते हैं अथवा हमारे टॉल फ्री नंबर 1800-11-7800 डायल करके प्रधानमंत्री के लिए अपना सन्देश हिन्दी अथवा अंग्रेजी में रिकॉर्ड करा सकते हैं। कुछ चुनिंदा संदेशों को 'मन की बात' में भी शामिल किया जा सकता है।

इसके अलावा आप 1922 पर मिस्ड कॉल करके एसएमएस के जरिए प्राप्त लिंक का इस्तेमाल कर सीधे प्रधानमंत्री को भी सुझाव भेज सकते हैं।

24 अक्टूबर 2021 को सुबह 11:00 बजे मन की बात कार्यक्रम सुनना न भूलें|

रीसेट
3611 सबमिशन दिखा रहा है
3740
Vanya K S 3 महीने 1 day पहले

Namaste PMji,There are many hidden sportsman in our country. Why can't you make a rally to select eligible talented sports candidate to get trained well and get many medals in international sports. Specially at kodagu district many are there who didn't get good platform. We are very fit and because of low chances can't move further level.please select eligible candidate from village level..they definitely get many medals ,we are stronger by nature..please consider it ....it's my humble request

3740
Vanya K S 3 महीने 1 day पहले

Namaste PM Ji....I'm from Kodagu district... Which is called birth please of Holy river cauvery.in our place there is no proper development.it's a historical holy floating place and river cauvery maata called as sister of Gangamaata.If we compare this place with uttarakhand there is Nil effort to develop river cauvery and temple located. Please do some major requirement of devotees need..

52720
Gopal Dahiya 3 महीने 1 day पहले

आदरणीय प्रधान मंत्री आज 100करोड वेक्सिन आकंडा पुर्ण किया यह सब संभव हो चुका आपकी ओर हमारी सभी देश वासियों की समझदारी से आपको सभी देशवासी की हार्दीक शुभकामनाएं

19280
Shilpa Raj S 3 महीने 1 day पहले

Please don't do unsustainable developments in Uttarakhand.There was a recent news that new roads will be constructed by cutting through mountains😑
Actually it is due to this kind of destructions, the intensity of flood has increased.
AGAIN,new roads by destroying such areas
Please protect the natural, existing structure ofNature
These regions must be protected without harming the topography
If do unsustainable activities such as roads,rails,again in the fragile areas, it's not for good

33820
Jagruti.R.Vakik 3 महीने 1 day पहले

All India Radio Bhuj's PROG ' GAAM JO CHORO' Is closed now....Not only residential Kutchhi but all kutchi people who lived anywhere in India or out of India ...are sad for this news......pls Rethink about it,.from Central leval ...This prog is kutchhi prog ..since 1971.....& It's for kutchi farmers and Very useful for Kutchhi farmers...pls Rethink about it......

4510
Ravi Shankar 3 महीने 1 day पहले

Sir
Give me more space or allow me to mail you with so many days i have read about pullution , i feel different about rain ,sand, and drug which seeing on TV channel have genarated totaly different question which may be helpful in approching these problems or you may dicard it . These questions are from my engineering brain WHEN WHY and WHAT etc but this small space of 500 word is not sufficent Please Do as you wish sir I wrote the same to BBC and ACADEMYIA .

88690
Harsh Kumar 3 महीने 1 day पहले

मान्यवर नमस्कार मेरा आप के माध्यम से सुझाव है कि देश में विश्व स्तरीय नक्शे पर भारत देश में एक ऐसा शहर बताया जाए जिसकी आबादी शुरुआत में बहुत कम हो और यह शहर इको फ्रेंडली शहर होना चाहिए इसमें इसमें 0% पोलूशन का सतर रहना चाहिए आधुनिक सुविधाओं का प्रयोग ऐसा हो की जीरो परसेंट पोलूशन से आगे कोई कोई गुंजाइश ना हो और खाने पीने के लिए शुद्ध केमिकल रोहित भोजन सामग्री मिले और इस शहर में ऐसे लोगों को बचाया जाए जो जो रचनात्मक सहयोग के साथ इस शहर की इको फ्रेंडली गरिमा को अपने जहन में बनाए रखें

490
SrumitaNarzary 3 महीने 1 day पहले

Namaste Modi Ji, myself Oumkara Nanda Narzary. I would like to convey a few suggestions:

1. To set up Yoga & Ayurvedic centers in international airports and big railways stations (e.g., Mumbai, Delhi, Kolkata, Chennai, Bangalore)
2. Yoga & Ayurvedic sections in all hospitals and health centers, both government and private.
3. To establish the Indian Institute of Yoga and Ayurveda (similar to institutions like AIIMS, IITs).
Regards