मिशन अंत्योदय के कार्यान्वयन के लिए ड्राफ्ट फ्रेमवर्क पर टिप्पणियां और सुझाव आमंत्रित

Last Date Nov 04,2017 00:00 AM IST (GMT +5.30 Hrs)
प्रस्तुतियाँ समाप्त हो चुके

मिशन अंत्योदय 'योजना के लिए ग्राम पंचायतों को बुनियादी इकाई के रूप ...

मिशन अंत्योदय 'योजना के लिए ग्राम पंचायतों को बुनियादी इकाई के रूप में सरकारी हस्तक्षेप करने का प्रयास करता है..साथ ही संसाधनों को पूलिंग के जरिए एक संतृप्ति दृष्टिकोण का पालन करके - मानव और वित्तीय - टिकाऊ आजीविका सुनिश्चित करने के लिए है….यह 1000 दिनों में 5000 ग्रामीण समूहों या 50,000 ग्राम पंचायतों में 1,00,00,000 घरों के जीवन के औसत दर्जे के परिणामों के आधार पर एक वास्तविक अंतर बनाने व ग्रामीण परिवर्तन के लिए राज्य-नेतृत्व की पहल है।

कार्यान्वयन के लिए 'मिशन अंत्योदय' फ्रेमवर्क अभिसरण, जवाबदेही और परिणामों पर आधारित है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि एसईसीसी, 2011 पर आधारित प्रत्येक वंचित घरों के लिए टिकाऊ आजीविका प्रदान करने के साख साथ व प्रभावी रूप से या कहें ढंग से संसाधनों का प्रंबंधन किये जा सका है|

राज्यों ने 'मिशन अंत्योदय' के तहत ग्राम पंचायतों / समूहों का चयन किया है, जो कि ओडीएफ, डेएनएआरएम, मिशन जल संरक्षण, साजी / रबर क्लस्टर, पुरस्कार विजेता ग्राप पंचायते, अपराध / विवाद मुक्त ग्राम पंचायत या विशिष्ट उद्देश्य वाले ग्राम पंचायत जैसे विषय इन योजनाओं में शामिल थे। इनमें से अधिकांश ग्राम पंचायतें देश के पिछड़े जिलों में भी हैं।

मिशन अंत्योदय 'से सभी हितधारकों के अभिसरण और ठोस कार्रवाई के माध्यम से ग्राम पंचायतों में भाग लेने की गुप्त संभावनाओं को दूर करने की उम्मीद है और इसका मकसद ही ग्राम पंचायत को विकास के एक अच्छे चक्र में आगे बढ़ाने की है।

ग्रामीण विकास मंत्रालय ने मिशन अंत्योदय के कार्यान्वयन के लिए तैयार हो रहे ड्राफ्ट फ्रेमवर्क के लिए आपके सुझाव आमंत्रित किए हैं।

मिशन अंत्योदय के कार्यान्वयन के लिए विस्तृत ड्राफ्ट फ्रेमवर्क को यहां देखा जा सकता है।

आप भी इस ड्राफ्ट फ्रेमवर्क के लिए अपने सुझाव व विचार प्रस्तुत की अंतिम तिथि 3 नवंबर, 2017 की मध्य रात्रि तक है

विवरण देखें Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
84 सबमिशन दिखा रहा है
3940
janarthanan R 2 साल 1 महीना पहले

The plan is a welcome measure it needs some more addition the planning component should include bottom level approaches through websites where people can post their needs in an effective way and in effectively monitoring the implementation GI tagged sites and projects should be made open access to people, budget allocated for every block and village should be displayed in a user friendly manner so that a citizen know what are the schemes and programmes going on ,

2110
DESAI RAJENDRAKUMAR 2 साल 1 महीना पहले

One more suggestion about Human resources for MISSION ANTYODAYA,Government can consider of getting voluntary services from the retired Govt. emloyees.teachers,private employees by identifying some tasks like preparing database,data entry,different surveys to workout strategy for DP,evaluation surveys,PERFORMANCE measurement surveys etc.Now a days such type of manpower is available in villages and they have problem of time passing therefore their voluntary services shall be utilised.

2110
DESAI RAJENDRAKUMAR 2 साल 1 महीना पहले

In continuation to my submission of date 02-11-17,I would further like to add to my suggestion about new age human resources requirement possessing managerial and technological skills for MISSION ANTYODAYA.In this connection I have attached two pages.I also emphasise that spiritual force shall also be used for rural development mission, which is a mission to serve MA BHARATI.
#MissionAntyodaya

2110
DESAI RAJENDRAKUMAR 2 साल 1 महीना पहले

First of all GRAMSABHA shall be accepted as a basic unit where DP will be discussed in detail and just like this MY GOV website new ideas will be invited and discussed and a plan will be developed for GP unit under MISSION ANTYODAYA,this will form basis of convergence of govt.funds and efforts to make poverty free India.
My other suggestions are attached for your valuable consideration.
#MissionAntyodaya

1300
Bsk Chhotaray 2 साल 1 महीना पहले

It is a good proposal that Gram Panchayat will be direct monitoring a central govt.
Mission .However to make it fullproof Block Development Officer of each block should be guided to cover all the beneficiary in his block.Reason being Panchayat offices headed by SARPANCH are always biased to certain political parties(after election in panchyats every political party claim their victories)

300
Bala Murugan 2 साल 1 महीना पहले

Good Vision: Gram Panchayat under direct monitoring of central govt.

Mission :

Suggestions applicable for next two years 2019
-----------------------------------
Pls refer the book inwhich all solutions are provided.
Book Name: India of My dreams
By M.K.Gandhi , Father of Our Nation.