तनाव मुक्त परीक्षा के लिए अपने विचार व सुझाव साझा करें

Last Date Dec 01,2019 00:00 AM IST (GMT +5.30 Hrs)

सितंबर 2019 के मन की बात के एपिसोड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ...

सितंबर 2019 के मन की बात के एपिसोड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों से तनाव मुक्त परीक्षा के विभिन्न पहलुओं पर अपने अनुभव और सुझाव साझा करने का आह्वान किया है।

हम आपको तनाव मुक्त परीक्षा के विभिन्न पहलुओं पर अपने अनुभव और सुझाव साझा करने के लिए आमंत्रित करते हैं। आप अपने सुझाव या तो सीधे टिप्पणी बॉक्स के माध्यम से दे सकते हैं या पीडीएफ दस्तावेज़ अपलोड कर सकते हैं।

See Details Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
5765 सबमिशन दिखा रहा है
200
Gopakumar T K 1 घंटा 32 मिनट पहले

Make examinations a regular affair like once in a week or so, so that kids will drop the importance of examinations. However educate parents that exams are there to identify the strength and weakness of your child and to guide them to take the child to his/ her strong areas. Kids are not super humans to excel in every subject, they are just like their parents.

200
Dr.G Bhas 3 घंटे 38 मिनट पहले

Educators may demonstrate how to tackle negative thinking that occurs sometimes among students . This can be developed into an app which students can use, like an exam stress guide app .
Distorted thinking such as " Im no good " or " I will fail " are examples of black and white thinking which can escalate over time . Students can be encouraged to recognize their own negative thinking and how to tackle them .

They can be encouraged to use micro learning techniques

2300
sandeep more 7 घंटे 18 मिनट पहले

2
और पढाई के साल कम हो जैसे 12से 15 साल ताकी गरीब मध्यमवर्गीय बच्चे भी डोक्टर इंजिनीयर बन सके और पढाई वैदिक पद्धती की होनी चाहिये संस्कृत का महत्व बढाना चाहिये प्राचीन वेद और विज्ञान से भरपुर ग्रंथोका अभ्यास सुरू करना चाहिये और अंग्रेज और मुघलोकी गुलामी का इतिहास बंद करके अपने प्राचीन गौरवशाली इतिहास शीखाना चाहिये जर्मनी,जपान,रशिया,फ्रान्स,इजराइल ,चीन जैसे देश इंग्लीश भाषा के गुलाम नही है फिरभी बहुत आगे है

2300
sandeep more 7 घंटे 19 मिनट पहले

आजकी अंग्रेज गुलामी की मॅकोले की बिनजरुरी शिक्षा पद्धती की वजह से मानसिक तनाव और करप्शन बढा है और देशप्रेम की भावना कम होती जा रही है लोग अंग्रेजी भाषा के गुलाम हो गये है और इंग्लीश की वजह से लोग अपनी महान संस्कृती परंपरा भुलने लगे है और तो और मातृभाषा और राष्ट्रभाषा भी सही ढंग से लिख या बोल नही पा रहे हैं इसलीये जरुरत से ज्यादा इंग्लीश की गुलामी से आझाद करवाओ अगर भ्रष्टाचार हटाना है और देशप्रेम बढाना है तो शिक्षा सरकारी स्कुल कोलेज मे मिलिट्री ट्रेनिंग मेही मुफ्त या फिर कमसेकम फिस मे हो

18120
Nadar Merlin Chelladurai 7 घंटे 20 मिनट पहले

Not only will regular exercise relieve stress but it can also improve concentration and mental awareness – two things that are vital while studying for your degree. Tiring yourself out with exercise will also improve your sleep, which further reduces stress levels.

800
Harshit Zarpure 7 घंटे 27 मिनट पहले

My opinion in conducting stress free examination can summed up in below points
1) Places where exam is conducted must be free from noise or any public possessions, so that students can focus on their exam. This problem I have faced many times in my life.
2) Behaviour of Invigilators must be cooperative.
3) Drinking water, toilet,first-aid etc must be provided .
4) Schools should complete the syllabus early so that students get enough time to revise.
5) A wall clock must be Mounted in every class