MyGov आइडिया बॉक्स

Last Date Mar 31,2020 23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)

खुली चर्चा का एक ऐसा मंच जहाँ आप शासन और नीति-निर्माण के किसी भी विषय ...

खुली चर्चा का एक ऐसा मंच जहाँ आप शासन और नीति-निर्माण के किसी भी विषय पर अपने बहुमूल्य विचारों और सुझावों को साझा कर सकते हैं। ऐसे विचार जिनसे 2022 तक एक नए भारत के निर्माण में मदद मिले। (यह मंच उन मुद्दों और विषयों के लिए है जिनसे संबंधित MyGov पर कोई अन्य चर्चा नहीं चल रहा हो और यह नागरिकों के दृष्टिकोण से बेहद महत्वपूर्ण हो।)

विवरण देखें Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
74330
Nellai D Muthuselvam 26 सेकंड पहले

More reforms and changes are needed in departments like agriculture, employment, medicine and the judiciary. The welfare of the people and the development of the nation are all important. Many of my previous requests have been accepted. My other requests are in the following images. Among these, the central government should implement what is desirable and feasible. If you have any questions about the implementation please contact me. I am ready to explain in detail.

0
Rakesh 3 मिनट 41 सेकंड पहले

पोशाक/कपडे, जूते, फैशन एसेसरीज नकली और स्मगलिंग सामान बेचने वालों की प्राथमिकता है। ऐसे उत्पादों को खरीदना युवाओं के लिए कलंक है, क्योंकि स्टाइल के लिए खरीदारी करते समय उत्‍पाद पर लगा मूल्य टैग उनके लिए अधिक महत्वपूर्ण होता है। उन्हें पता नहीं है कि ऐसा करना उपभोक्ताओं, ब्रांडों और अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक है। इस प्रकार का अवैध व्यापार अपराध और आतंकवाद को धन उपलब्‍ध कराता है। सरकार को किसी भी खरीदारी पर दुकानदार से बिल अवश्‍य लेने के प्रति लोगों को जागरूक करना चाहिए। जितने अधिक लोग बिल लेंगे

0
VINAY 5 मिनट 11 सेकंड पहले

पोशाक/कपडे, जूते, फैशन एसेसरीज नकली और स्मगलिंग सामान बेचने वालों की प्राथमिकता है। ऐसे उत्पादों को खरीदना युवाओं के लिए कलंक है, क्योंकि स्टाइल के लिए खरीदारी करते समय उत्‍पाद पर लगा मूल्य टैग उनके लिए अधिक महत्वपूर्ण होता है। उन्हें पता नहीं है कि ऐसा करना उपभोक्ताओं, ब्रांडों और अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक है। इस प्रकार का अवैध व्यापार अपराध और आतंकवाद को धन उपलब्‍ध कराता है। सरकार को किसी भी खरीदारी पर दुकानदार से बिल अवश्‍य लेने के प्रति लोगों को जागरूक करना चाहिए। जितने अधिक लोग बिल लेंगे

1170
Bistnu Narayana Nayak 8 मिनट 25 सेकंड पहले

#Employment
Proper Distribution of Resources for SDG,good GDP,$5T,SSSB
1One job for eligible unemployed married couple
2Person having Govt. job, should marry suitable unmarried, if wants person having Govt. job,have to quit the Govt. job by either one.
3If both of the spouse having Govt. job, either have to quit.
4 No plea of divorce, they should marry suitable unmarrieds or salayy 50%/VR.
5New business/industry can be set up by the second member of the spouse may have private job

0
Babu Ram 8 मिनट 30 सेकंड पहले

20% road accidents and out of them 50% of the total ones are caused by fake auto parts. Counterfeit and smuggled auto parts may be cheaper but cost more in the long run –parts don’t last long, lead to mechanical problems, cause pollution and safety hazard. Govt should make it mandatory to give and take a bill on every purchase. This ensures that the product is genuine and tax paid. Tax revenues will be used for benefit of citizens. As responsible consumer you are a part our nation’s progress.

0
Isha Kubal 10 मिनट 3 सेकंड पहले

Subject: Create robots (already invented) and transformers to protect our nation

Dear Madam/ Sir

There was news that robot was created to do a waiter's job in Bangalore. If transformers and robots are created to fight and defend nations, then the lives of our Brothers and Sisters can be saved. Research is needed on this subject.

Kindly do the needful as soon as possible.

Thank you

0
Satish Kumar 13 मिनट 6 सेकंड पहले

20% सड़क दुर्घटनाएं और उनमें से कुल 50% नकली ऑटो पार्ट्स के कारण होती हैं। नकली और तस्करी वाले ऑटो पार्ट्स सस्ते हो सकते हैं, लेकिन लंबे समय तक चलने में अधिक खर्च होता है, जो यांत्रिक समस्याओं, प्रदूषण और सुरक्षा के खतरे का कारण बनता है। सरकार को हर खरीद पर बिल देना और लेना अनिवार्य करना चाहिए। यह सुनिश्चित करता है कि उत्पाद वास्तविक है और टैक्‍स का भुगतान किया गया है। नागरिकों के लाभ के लिए कर राजस्व का उपयोग किया जाएगा। जिम्मेदार उपभोक्ता के रूप में आप हमारे देश की प्रगति का हिस्सा हैं।

300
Aman Thakur 13 मिनट 58 सेकंड पहले

Apparels, footwear, fashion accessories are top targets for fakes and smuggled. There is less stigma for youth to buy such products, as the price tag is more important to them when shopping for style. They are not aware that it is damaging to consumers, brands and economy. This illegal business funds crime and terrorism. Govt must sensitize people to take a bill on any purchase. The more people will take bill and pay taxes- there will be greater benefit to them and the nation. Responsible consum

0
SURESH KUMAR 14 मिनट 11 सेकंड पहले

पोशाक/कपडे, जूते, फैशन एसेसरीज नकली और स्मगलिंग सामान बेचने वालों की प्राथमिकता है। ऐसे उत्पादों को खरीदना युवाओं के लिए कलंक है, क्योंकि स्टाइल के लिए खरीदारी करते समय उत्‍पाद पर लगा मूल्य टैग उनके लिए अधिक महत्वपूर्ण होता है। उन्हें पता नहीं है कि ऐसा करना उपभोक्ताओं, ब्रांडों और अर्थव्यवस्था के लिए हानिकारक है। इस प्रकार का अवैध व्यापार अपराध और आतंकवाद को धन उपलब्‍ध कराता है। सरकार को किसी भी खरीदारी पर दुकानदार से बिल अवश्‍य लेने के प्रति लोगों को जागरूक करना चाहिए। जितने अधिक लोग बिल लेंगे

0
Naresh Sharma 17 मिनट 13 सेकंड पहले

20% road accidents and out of them 50% of the total ones are caused by fake auto parts. Counterfeit and smuggled auto parts may be cheaper but cost more in the long run –parts don’t last long, lead to mechanical problems, cause pollution and safety hazard. Govt should make it mandatory to give and take a bill on every purchase. This ensures that the product is genuine and tax paid. Tax revenues will be used for benefit of citizens. As responsible consumer you are a part our nation’s progress.