Gandhi@150 के अवसर पर समारोह

Last Date Jan 30,2020 23:45 PM IST (GMT +5.30 Hrs)

जिस महान व्यक्तित्व ने पूरी दुनिया को बताया कि सौम्यता व विनम्रता से ...

जिस महान व्यक्तित्व ने पूरी दुनिया को बताया कि सौम्यता व विनम्रता से दुनिया बदली जा सकती है। उनकी 150 वीं जयंती के साथ एक नई शुरुआत की जा रही है। वे अपने पीछे नैतिकता, आत्मसम्मान, क्षमा, अहिंसा और सत्याग्रह आदि की विरासत छोड़ गए हैं। अब दुनिया तेजी से विकसित हो रही है और सभी के सतत और समावेशी विकास के लिए कुछ पहलूओं पर ध्यान दिए जाने की आवश्यकता है।

गांधी स्मृति और दर्शन समिति इस डिजिटल मंच पर आपको खुली चर्चा के लिए आमंत्रित करती है जहां आप अपने बहुमूल्य विचारों को साझा कर सकते हैं।

इन विचारों को महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती समारोह के लिए समर्पित विभिन्न कार्यक्रमों के संचालन में समिति द्वारा उपयोग किया जा सकता है।

भेजने की अंतिम तिथि जनवरी 30, 2020 है।

विवरण देखें Hide Details
सभी टिप्पणियां देखें
रीसेट
4230 सबमिशन दिखा रहा है
20
Pradeep Kumar Mishra 11 मिनट 34 सेकंड पहले

क्लास में टीचर ने पूछा "दुनिया में प्रेम की निशानी किस जगह को कहा जाता है "? पूरी क्लास एक आवाज़ में चिल्लाया "ताजमहल" सिर्फ एक स्टूडेंट बोला "रामसेतु"! टीचर ने उसे खड़ा किया, पूछा " कहना क्या चाहते हो? "वो स्टूडेंट खड़ा हो के बोला " रामसेतु प्रभु श्रीराम ने अपने पत्नी को वापिस पाने के लिए बनाया और सेतु का निर्माण करने वालो को प्रभु श्रीराम ने पूरा सम्मान दिया । वही ताजमहल पत्नी के लिए मकबरा हैं ना की उसकी चाहत के लिए कोई भेट और निर्माण करनेवाले कारिगरों के हाथ काटलिए गये ।
टीचर और स्टूडे

20
Pradeep Kumar Mishra 45 मिनट 26 सेकंड पहले

शिक्षा के क्षेत्र में भी सफाई आवश्यक हो गई हैं। इसकी एक संरचना का प्रारूप है । अब प्राथमिक शिक्षा, भाषा की शिक्षा, अर्थ अर्जन की शिक्षा, सामाजिक शिक्षा और धार्मिक शिक्षा को अलग अलग महत्वों के साथ परिभाषित किये जाने की आवश्यकता है। प्राथमिक शिक्षा सिर्फ परिचायक हो।भाषा और उसका ज्ञान अलग हो । नौकरी और अर्थ अर्जन की शिक्षा ब्यवहारिक हो । सामाजिक ब्यवस्था और ब्यवहार की शिक्षाप्रद लाईब्रेरी हो । अन्न और धर्म स्व विकास मे सहायक कैसे हैं इसके लिए धर्म स्थलों का विकास हो । रामराज्य एक ऐसी ही संरचना थी ।

2390
Yaswanth sai 2 घंटे 9 मिनट पहले

n a tribute to Gandhi, The Honorable Prime Minister has released a coin of ₹150 on his 150th birthday. ... In the evening, PM Modi visited Sabarmati Ashram in Gujarat to address 10,000 sarpanchs. He also declared India 'open defecation free' and success of the Swachh Bharat Mission and launch a war against plastic.